• Sun. Nov 28th, 2021

30 जून तक वर्षा के पानी का संचय करने के लिए विभागों को जो टारगेट दिए गये हैं वे उन्हें पूरा करने का काम करें।

Byadmin

Jun 23, 2021

अम्बाला, 23 जून:- उपायुक्त विक्रम सिंह ने आज अपने कार्यालय में जल शक्ति अभियान के तहत एक बैठक लेते हुए बारीश से पहले यानि 30 जून तक वर्षा के पानी का संचय करने के लिए विभागों को जो टारगेट दिए गये हैं वे उन्हें पूरा करने का काम करें।
उपायुक्त विक्रम सिंह ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि जल शक्ति अभियान केन्द्र सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के तहत हमें पानी की महत्वता बारे स्वयं सचेत रहना है बल्कि दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करना है। वर्षा के पानी को व्यर्थ नहीं बहने देना है। उन्होंने बैठक में बिंदुवार विभागाध्यक्षों से जल शक्ति अभियान के तहत रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम के तहत जो टारगेट दिए गये थे उनके तहत क्या-क्या कार्य कर लिए गये है इस बारे जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे इन सभी कार्यों को तीव्रता से करना सुनिश्चित करें ताकि वर्षा के मौसम में पानी का संचय किया जा सके। मनरेगा के तहत क्या-क्या कार्य कर लिए गये हैं, इस बारे सीईओ जिला परिषद से जानकारी ली। सिंचाई विभाग के अधिकारियों  से इस विषय को लेकर जानकारी हासिल करते हुए उन्होंने कहा कि विभाग के द्वारा जो भी टैंडर लगाए जाने है उस कार्य को वे तुरंत करें और रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम के तहत इस कार्य को करना सुनिश्चित करें। उद्योग विभाग से आये अधिकारियों को भी उन्होंने कहा कि उनके विभाग से सम्बन्धित जो टारगेट है वे भी उन्हें 30 जून तक पूरा करें।
बैठक के क्रम में उन्होंने अधिकारियों से पौधारोपण किए जाने वाले कार्य बारे भी जानकारी ली। वन विभाग के अधिकारियों ने उपायुक्त को अवगत करवाते हुए बताया कि इस कार्य के तहत 21 लाख पौधे लगाये जाने का लक्ष्य रखा गया है जिनमे से 6 लाख पौधे लोगों को बांटने का कार्य किया जाना है, 3 लाख पौधे स्वयं वन विभाग द्वारा लगाये जाने हैं। इसके साथ-साथ अन्य पौधों को लगाने के लिए अन्य विभागों को दिए जायेेंगे। उपायुक्त ने बैठक में यह भी कहा कि सभी सरकारी भवनों में वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम के साथ-साथ प्लांटेशन के कार्य का करना सुनिश्चित करें। बैठक के दौरान उन्होंने मॉडल पौंड बनाये जाने के कार्य को लेकर भी पंचायती राज विभाग के अधिकारियों से जानकारी लेते हुए इस कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।
उपायुक्त ने अधिकारियों को कहा कि 28 जून से पहले वे इस विषय को लेकर विभागों का जो भी डाटा है उसे भी अपडेट कर लें। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भी सभी सम्बन्धित विभागों ने जल शक्ति अभियान के तहत बेहतर कार्य किया था, इसी तरह वे इस कार्य को और तीव्रता व बेहतर समन्वय के साथ करें ताकि वर्षा के पानी को व्यर्थ बहने से रोका जा सके।
उपायुक्त ने इस मौके पर सीएम विंडो, सरल पोर्टल व ई-ऑफिस विषय पर भी सम्बन्धित अधिकारियों से चर्चा करते हुए इन कार्यों में भी तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सरल पोर्टल पर बेहतर कार्य किया जा रहा है और हम पहले स्थान पर हैं। इसी तरह हमें अन्य विषयों पर भी अच्छा रैंक हासिल करना है।
बैठक में जिला परिषद के सीईओ अनुराग ढालिया, हुडा विभाग से इस्टेट ऑफिसर अशोक शर्मा, डीएमसी अरूण भार्गव, कृषि विभाग के उप निदेशक डा0 गिरीश नागपाल, जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश कुमार, कार्यकारी अभियंता पंचायत राज नवदीप, बीडीपीओ डा0 दलजीत सिंह, विकास कुमार, कार्यकारी अभियंता रणबीर त्यागी, प्रवीन गुप्ता, जसविन्द्र मलिक, अनिल चौहान के साथ-साथ सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed