• Tue. Aug 16th, 2022

13 फरवरी को सिंघावाला में होगा किसान सम्मेलन का आयोजन : मलौर*

Byadmin

Feb 11, 2021


*कांग्रेस पार्टी के सत्ता म आते ही तीनों काले कानूनों को रद्द किया जाएगा*
पूर्व विधायक एवं सदस्य अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी चौ जसबीर मलौर ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि प्रदेशाध्यक्षा बहन कुमारी शैलजा जी के आह्वान पर 13 फरवरी , दिन शनिवार को गांव सिघांवाला में किसान आंदोलन के समर्थन में किसान सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा | मलौर ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार की मशां किसान को पूंजीपतियों का गुलाम बनाने की है | देश के प्रधानमन्त्री इतने दिनों से धरने पर बैठे किसानों की आवाज सुनने की बजाय ओछी ब्यानबाजी कर रहे हैं | जैसे शब्द प्रधानमन्त्री ने किसानों के लिए प्रयोग किए हैं इससे उनकी बीमार मानसिकता का प्रमाण मिलता है | देश का किसान अपने हकों की रक्षा के लिए दिल्ली का घेराव किए हुए है और सरकार से 3 काले कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहा है लेकिन भाजपा सरकार अपनी जिद्द पर अड़ी हुई है और किसानों की मांगे मानने में शर्म महसूस कर रही है |अगर देश का किसान ही खुशहाल नहीं होगा तो देश कैसे खुशहाल होगा | आज देश का हर नागरिक किसानों के साथ खड़ा है | किसान अपने हक की लड़ाई लड़ रहा है ना कि किसी और का हक मांग रहा है |पूरे देश में पूंजीवादी अर्थव्यवस्था हावी होने को है एवं देश का मेहनती किसान मौजूदा हालात में चंद पूंजीपतियों के हाथ की कठपुतली बनकर रह जाएगा | प्रधानमन्त्री मोदी ने आंदोलन के दौरान शहीद हो चुके करीब 200 किसानों की मौत पर संवेदना का एक शब्द तक नहीं बोला | शांतिपूर्वक आंदोलन कर रहे किसानों में फूट डालने का प्रयास किया जा रहा है | सरकार आंदोलन फेल करने के लिए हर तरह के हथकंडे अपना रही है | मलौर ने कहा कि पूरी कांग्रेस पार्टी प्रदेशाध्यक्षा बहन कुमारी शैलजा जी के निर्देशानुसार किसान आंदोलनमें उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है | उन्होने सभी किसानों से अपील करते हुए कहा कि 13 फरवरी , दिन शनिवार को गांव सिंघावाला में होने वाले किसान सम्मेलन में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुंचे | कांग्रेस पार्टी की सरकार बनते ही तीनों काले कानूनों को रद्द किया जाएगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published.