• Wed. Jun 29th, 2022

हरियाणा में बिजली की कमी नहीं रहने दी जाएगी: मनोहर लाल

Byadmin

Jun 4, 2022

– ‘हाई पॉवर परचेज कमेटी’ की बैठक में कोयला खरीद का लिया निर्णय

चंडीगढ़, 4 जून- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि वे प्रदेश के लोगों को निर्बाध रूप से बिजली देने के लिए प्रयासरत हैं। भविष्य में कोयले की कमी के कारण कोई भी थर्मल पॉवर प्लांट बंद न हो, इसके लिए एडवांस में कोयले का आयात करने का निर्णय लिया गया है।

         मुख्यमंत्री ने यह जानकारी आज यहां हरियाणा निवास में ‘हाई पॉवर परचेज कमेटी’ की बैठक की अध्यक्षता करने के बाद मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए दी।  बैठक में हरियाणा के परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन राज्य मंत्री श्री अनूप धानक,बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पी.के दास,आपूर्ति एवं निपटान विभाग के महानिदेशक श्री मोहम्मद शाइन के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

         हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जनकल्याण के प्रति अपनी प्रतिबद्घता जाहिर करते हुए बताया कि गर्मी बढऩे पर पिछले दिनों थोड़ी-सी बिजली की समस्या बनी थी। कोल इंडिया कंपनी ने इस बारे में चिंता जताई थी कि सभी राज्यों को कुछ कोयला आयात करके अपने पास रखना चाहिए। उसी को देखते हुए राज्य सरकार ने भविष्य में कोयले की कमी न रहे, इसके लिए अच्छी गुणवत्ता का कोयला खरीदने के लिए एडवांस में तैयारी आरंभ कर दी है। उन्होंने बताया कि आज एक कंपनी को इस बारे में अधिकृत किया है।

         मीडिया द्वारा हरियाणा विधानसभा के नए भवन के निर्माण के लिए चंडीगढ़ में साइट देखने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने बताया कि हरियाणा विधानसभा का वर्तमान भवन का साइज छोटा पड़ता है। बड़े भवन के निर्माण के लिए जगह उपलब्ध करवाने हेतु हरियाणा सरकार की ओर से चंडीगढ़ यू.टी प्रशासन को खत लिखा गया था, जिस पर उनको कुछ साइट सुझाई गई हैं। उसी सिलसिले में आज दौरा किया गया।

         नगर निकाय के चुनावों में भाजपा-जजपा गठबंधन द्वारा साथ मिलकर चुनाव लडऩे के प्रश्न का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि उनके विरोधी तो चुनावी-मैदान छोडक़र भाग गए हैं, स्पष्ट है कि उनकी सरकार वाला गठबंधन ही एकतरफा जीत हासिल करेगा।

         हरियाणा से राज्यसभा की दो सीटों के चुनाव से संबंधित पूछे गए सवाल का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी पार्टी के उम्मीदवार को केवल 31 विधायकों के वोट की जरूरत है बाकि वोट निर्दलीय उम्मीदवार को ही जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.