• Tue. Jan 18th, 2022

हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट ने प्रॉपर्टी टैक्स व एनडीसी प्रथा समाप्त करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

Byadmin

Jul 19, 2021

जल्द मांगे पूरी न हुई तो करेंगे धरना प्रदर्शन – #विनोद #धीमान
अम्बाला शहर- : जोरदार बरसात होने के बावजूद पूर्व निर्धारित
कार्यक्रम के अनुसार हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट की नेता चित्रा सरवारा,
अमीशा चावला, गुलजार सिंह, रोहित शर्मा ‘वीशू’, बलजिन्द्र कम्बोज, प्रदीप
वर्मा, रोबिन खोड़ा, मोनू शर्मा, बब्ली, भूपिन्द्र सिंह, नवीन शर्मा,
रजिन्द्र ङ्क्षसह बिट्टू, परमिन्द्र बंटी व अन्य पदाधिकारियों ने शहरी
प्रधान विनोद धीमान की अध्यक्षता में नगर निगम कमिश्नर के नाम जनता को आ
रही समस्याओं बारे एक ज्ञापन कार्यकारी अधिकारी जरनैल सिंह को सौंपा साथ
ही सभी नेताओं ने हरियाणा सरकार के खिलाफ नारे बाजी की।
        ज्ञापन के माध्यम से चित्रा सरवारा ने बताया कि नगर निगम द्वारा जिस
तरीके से लोगों से प्रॉपर्टी टैक्स वसूल रहा है वह तरीका बिल्कुल
तानाशाही भरा है। नगर निगम द्वारा 2006 से 2021 तक का प्रॉपर्टी टैक्स
इकट्ठा वसूला जा रहा है। जबकि यह टैक्स हर साल लिया जाना चाहिए था तो
इससे लोगों को भी परेशानी कम होती और नगर निगम की आमदनी भी बढ़ती। आज जबकि कोराना महामारी व मंहगाई से सभी कामकाज ठप्प होने की कगार पर हैं और ऊपर से नगर निगम लोगों से जबरन कई सालों का टैक्स वसूल रही है। इस ज्ञापन के माध्यम से हम मांग करते हैं कि लोगों का पिछला टैक्स माफ किया जाए और आगे से नगर निगम से तय किया जाए कि लोगों से प्रापर्टी  टैक्स हर साल
कलेक्ट किया जाएगा और इसमें कर्मचारियों की डयूटी भी तय की जाए। अगर कोई
कर्मचारी अपनी डयूटी नहीं करता तो उसके खिलाफ भी कार्यवाही की जाए और जो कर्मचारी पूरा टैक्स इकट्ठा करे उसे इनाम के तौर पर कुछ प्रोत्साहन राशि
दी जाए।
        ज्ञापन के  माध्यम से अमीशा चावला ने बताया कि बिजली विभाग, वन विभाग, रेवन्यू विभाग, कई बैंक परिसर और बड़े अधिकारियों के परिसरों का करोड़ों
रूपये का प्रॉपर्टी टैक्स रूका पड़ा है। लोगों से जबरन वसूली की बजाए
पहले सभी सरकारी दफ्तरों और निगमों से प्रॉपर्टी टैक्स वसूल किया जाए या
उन्हें सील किया जाए ताकि नगर निगम के नियमों का पालन हो सके।
ज्ञापन के माध्यम से विनोद धीमान ने मांग की कि नगर निगम में एनडीसी के
नाम पर लोगों को परेशान किया जा रहा है। जिन कालोनियों की पहले
रजिस्ट्रीयां हो चुकी हैं और 35 से 40 प्रतिशत मकान बन चुके हैं और उन
मकानों पर नगर निगम द्वारा  प्रॉपर्टी आईडी लगाई गई है और इसी  प्रॉपर्टी
आईडी के आधार पर नगर निगम लोगों से प्रॉपर्टी टैक्स भी ले रही है। अब नगर
निगम कह रहा है कि आपके खसरा नम्बर नगर निगम में नहीं आते इसलिए हम आपको एनडीसी नहीं दे सकते। आपकी रजिस्टरी नहीं हो सकती। इसमें ऐसे कई गरीब लोग हैं जिन्होंने अपने बच्चों की पढ़ाई व शादी के लिए प्लाट लेकर रखे हुए थे
ताकि समय आने पर वे यह प्लाट बेचकर अपने बच्चों की पढ़ाई व शादी कर सकें।
हम मांग करते हैं कि 2015 ये 2020 तक कई मकानों के नक्शे नगर निगम द्वारा
पास किए और एनडीसी जारी की गई लेकिन नगर निगम ने अब इन कालोनियोंं को मिन ऐरिया में डाल दिया है और अब यह कहते हैं कि मिन ऐरिया की एनडीसी नहीं दी जा सकती जबकि पहले से ही इन कालोनियों में पानी और बिजली, सीवरेज, सडक़ सरकार द्वारा बनाए गए हैं। नगर निगम और तहसील में  रजिस्ट्रीयां करने के
लिए जो खसरा नम्बर सरकार ने दिखाए हुए हैं उन दोनों कार्यालयों की
लिस्टें अलग-अलग हैं जबकि इन दोनों कार्यालयों में रजिस्ट्रीयां करने के
लिए एक प्रकार की ही लिस्ट होनी चाहिए। विनोद धीमान ने मांग की कि इन
कालोनियों के नम्बर नगर निगम में दर्ज करवाए जाए । विनोद धीमान ने कहा कि
अगर जल्द ही हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट द्वारा दिए हुए सुझावों पर अमल न
किया गया तो फ्रंट के सभी सदस्य नगर निगम के बाहर प्रदर्शन करेंगे।

129 thoughts on “हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट ने प्रॉपर्टी टैक्स व एनडीसी प्रथा समाप्त करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन”
  1. There are certainly a lot of details like that to take into consideration. That is a great point to bring up. I offer the thoughts above as general inspiration but clearly there are questions like the one you bring up where the most important thing will be working in honest good faith. I don?t know if best practices have emerged around things like that, but I am sure that your job is clearly identified as a fair game. Both boys and girls feel the impact of just a moment?s pleasure, for the rest of their lives.

  2. Youre so cool! I dont suppose Ive read anything like this before. So nice to find somebody with some original thoughts on this subject. realy thank you for starting this up. this website is something that is needed on the web, someone with a little originality. useful job for bringing something new to the internet!

  3. Thanks for another informative website. Where else may I get that type of information written in such a perfect method? I’ve a venture that I am simply now running on, and I have been on the glance out for such information.|

  4. We’re a group of volunteers and starting a new scheme in our community. Your site provided us with useful information to work on. You’ve done an impressive activity and our whole community will be grateful to you.|

  5. My coder is trying to persuade me to move to .net from PHP. I have always disliked the idea because of the expenses. But he’s tryiong none the less. I’ve been using Movable-type on several websites for about a year and am anxious about switching to another platform. I have heard fantastic things about blogengine.net. Is there a way I can transfer all my wordpress content into it? Any kind of help would be greatly appreciated!|

  6. Its like you learn my mind! You seem to know a lot about this, such as you wrote the e-book in it or something. I feel that you could do with a few to pressure the message house a little bit, but instead of that, this is excellent blog. A great read. I’ll certainly be back.|

  7. I am not sure where you’re getting your info, but good topic. I needs to spend some time learning more or understanding more. Thanks for fantastic info I was looking for this info for my mission.|

  8. I was recommended this blog by my cousin. I’m no longer certain whether or not this put up is written via him as nobody else recognise such detailed approximately my trouble. You’re amazing! Thanks!|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *