• Tue. Aug 9th, 2022

हरियाणा के 5 लाख छात्रों को मिलने वाले टैबलेट में ढेरों खूबियां

Byadmin

May 4, 2022

कई सॉफ्टवेयर और लर्निंग मैटिरियल से लैस हैं छात्रों को मिलने वाले टैबलेट

बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ नीट, जेईई व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी कर सकेंगे छात्र

चंडीगढ़, 4 मई –  ई-अधिगम यानि एडवांस डिजिटल हरियाणा इनिशिएटिव ऑफ गवर्नमेंट विद अडाप्टिव मॉडयूलस योजना के तहत हरियाणा सरकार द्वारा विद्यार्थियों को दिए जाने वाले टैबलेट कई खूबियों से लैस हैं। नामचीन कंपनी का यह टैबलेट 8.7 इंच का है जिसकी कीमत करीब साढे बारह हजार रुपए है। इस पूरी योजना पर लगभग 700 करोड़ रुपए खर्च किया जा रहा है। टैबलेट में कई सॉफ्टवेयर और लर्निंग मैटिरियल शामिल हैं। टैब में लर्निंग मैनेजमेंट सिस्टम की व्यवस्था की गई है, जो पर्सनलाइज्ड अडेप्टिव लर्निंग (पीएएल) पर आधारित है ताकि बच्चे टैबलेट में ही मॉक टेस्ट, पूरा पाठ्यक्रम और अपने विषयों से संबंधित पूरी जानकारी हासिल कर सकें। इसमें किताबें, पीडीएफ, कंटेंट वीडियो/ऑडियो तथा अन्य डिजिटल कंटेट है। इसके साथ ही इसमें असेस्मेंट और टेस्टिंग टूल भी उपलब्ध करवाए गए हैं। इसमें विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियों के लिए टेस्ट मैटिरयल तथा ई-पाठशाला, एनओआरईआर, एनसीईआरटी सॉल्यूशन, फ्री सॉल्यूशन ऑफ एनसीईआरटी इत्यादि ऐप मौजूद हैं। 

हरियाणा सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि टैबलेट में ऑनलाइन एक्टिविटी के लिए छात्रों को इंटरनेट डेटा पर पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। टैबलेट में प्रतिदिन एयरटल या जियो का 2 जीबी डेटा फ्री मिलेगा, जिसपर सरकार का लगभग 57 करोड़ रुपए का खर्चा आएगा। उन्होंने कहा कि माता-पिता की आमदनी के हिसाब से बच्चों के इन्टरनेट पर 3500 रुपए सालाना खर्च करना संभव नहीं था। टैबलेट के साथ अगर फ्री इन्टरनेट न दिया जाता तो इससे उतना लाभ नहीं मिल पाता।

प्रवक्ता ने बताया कि विद्यार्थी टैबलेट, फ्री इंटरनेट और पीएएल की सहायता से न केवल अपनी बोर्ड परीक्षा को अच्छे अंकों से पास करेगा बल्कि नीट, जेईई व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी कर सकेगा। इससे विद्यार्थी को अच्छे कॉलेज में दाखिला लेने में सहायता मिलेगी। पढ़ाई के अतिरिक्त और भी कौशल है जो इस टैबलेट से प्राप्त होंगे। ये टैबलेट 21वीं सदी के कौशलों जैसे आर्टिफिशियल इन्टेलिजेन्स वर्चुअल रियलटी, डेटा साइट, डेटा अनालेसिस, ब्लॉक चेन मैनेजमेन्ट, क्लाउड कंप्यूटिंग जैसे कौशलों को ग्रहण करने में मदद करेगा।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल 5 मई, 2022 को ई-अधिगम योजना का शुभारंभ करने जा रहे हैं। रोहतक स्थित महर्षि दयानन्द विश्वविद्यालय के टैगोर ऑडिटोरियम में रोहतक शहर के सरकारी स्कूलों की बोर्ड कक्षाओं के विद्यार्थियों को टैबलेट वितरित किए जाएंगे। राज्य के 119 खंडों में भी यह टैबलेट वितरण समारोह इसी दिन शुरू होगा। अन्य जिलों में मंत्री, सांसद, विधायक व अन्य अतिथि इसी दिन टैबलेट वितरित करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री प्रदेश के सभी जिलों से वर्चुअल माध्यम से जुड़ेंगे और बच्चों से संवाद करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.