• Wed. Jun 29th, 2022

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय शुक्रवार को राज भवन में कृषि विशेषज्ञों से बातचीत करते हुए। राज्यपाल ने कृषि विशेषज्ञों को सम्मानित किया।

Byadmin

Jun 3, 2022

चण्डीगढ़ 03 जून। फसलों को विभिन्न प्रकार की बीमारियों व कींटों से बचाने के लिए कृषि वैज्ञानिक नई टैक्नोलाजी से तैयार कम खर्च वाली कीट नियन्त्रण तकनीक को किसानों तक पहुचांए तो यह कृषि उत्पादन बढ़ाने के क्षे़त्र में एक बड़ा कदम होगा। साथ ही किसानों की आय बढ़ेगी। यह बात  हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने शुक्रवार को उनसे मिलने आए पंजाब सरकार के सलाहकार श्री बी.पी.आचार्य ;सेवानिवृत आई.ए.एस और बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड के प्रबन्ध निदेशक श्री मार्कण्डेय गोरान्तला से बातचीत में कही। इस अवसर पर कृषि विभाग हरियाणा के अधिकारी भी उपस्थित रहें। 
राज्यपाल ने कहा कि फसलों को बीमारियों से बचाने के लिए कृषि वैज्ञानिकों को पेस्टिसाइड व अन्य हानिकारक दवाओं का विकल्प ईजाद करना होगा। इस दिशा में वैज्ञानिकों ने सराहनीय कार्य भी किया है। इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं। उन्होनें यह भी कहा कि वैज्ञानिक कृषि क्षेत्र से जुड़ी नई तकनीकियों का किसानों तक पहुॅंचाए और उनके फायदों के बारे में भी बताए ताकि किसान उनकों अपनाकर कृषि उत्पादन व अपनी आय बढ़ा सकें।
इस मुलाकात में श्री बी.पी.आचार्य जो पंजाब सरकार के सलाहकार हैं ने बताया कि कपास की फसल को कीटों से विशेष कर ‘‘पिंकबॉलवर्म‘‘ कीट से बचाव के लिए हैदराबाद की जीनोम वैली स्थित ए.टी.जी.सी कम्पनी के सहयोग से पंजाब कृषि विश्वविद्यालय द्वारा कीट प्रबन्ध के लिए पेस्ट तैयार की गई है जिसके प्रयोग करने से पिंकबॉलवर्म के मेल कीट पौधों से दूर रहते है। यह पेस्ट एक प्रकार से कपास के पौधों के लिए वैक्सीन का काम करती है। यह पेस्ट कीट परिवार नियोजन के उद्देश्य से तैयार की गई है। कपास की पूरी फसल के दौरान यह तीन बार एक एक माह के अन्तराल में एक एकड़ में 500 स्थानों पर लगाए जाते हैं। तीन बार इस पेस्ट का प्रयोग करने से इस पर मात्र 3000 रू तक का खर्च आता है जोकि पेस्टिसाईड के खर्च से तीन से चार गुणा कम है।
इस अवसर पर कम्पनी के प्रबन्ध निदेशक डा0 मार्कण्डेय गोरान्तला ने बताया कि इस पेस्ट के प्रयोग से कपास के उत्पादन में गुणात्मक वृ़िद्ध होगी और यह मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए भी पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने हरियाणा कृषि विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे इस कपास उत्पादे किसानों तक पहुंचाएं और इसके लिए केन्द्र सरकार भी सहयोग के लिए तैयार है।

2 thoughts on “हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय शुक्रवार को राज भवन में कृषि विशेषज्ञों से बातचीत करते हुए। राज्यपाल ने कृषि विशेषज्ञों को सम्मानित किया।”
  1. Hello just wanted to give you a quick heads up. The text in your article seem to be running off the screen in Firefox.
    I’m not sure if this is a format issue or something to
    do with internet browser compatibility but I thought I’d post
    to let you know. The style and design look great though! Hope you
    get the issue solved soon. Kudos aid for ukraine

  2. درمان افسردگی ، دارو یا خودیاری؟

    اگر در میان گزینه‌های مختلف درمانی برای افسردگی
    گیج شده اید، در این مطلب اطلاعاتی برای نحوه تصمیم گیری در مورد بهترین روش برایتان گردآوری شده است.

    یافتن بهترین درمان افسردگی برای شما
    درمان افسردگی
    درمان افسردگی
    وقتی افسرده هستید، ممکن است احساس کنید که هیچ وقت از زیر سایه تاریکی بیرون نخواهید آمد.
    اما خبر خوب این است که حتی شدیدترین افسردگی
    هم قابل درمان است. بنابراین، اگر افسردگی شما را
    از زندگی کردن به نحوی که دلتان می‌خواهد باز
    می‌دارد، از جستجوی کمک دریغ نکنید.

    گزینه‌های درمانی متفاوتی از تراپی گرفته تا دارو و تغییرات سبک زندگی سالم، برای
    درمان افسردگی وجود دارد.

    البته همانطور که هیچ دو نفر دقیقاً به یک شکل
    تحت تأثیر افسردگی قرار نمی‌گیرند، درمان «به یک اندازه برای همه» نیز برای درمان افسردگی وجود ندارد.
    چیزی که برای یک نفر جواب می‌دهد شاید برای دیگری
    جواب ندهد. با این حال، با دریافت اطلاعات‌ تا حد امکان،
    می‌توانید درمان‌هایی را بیابید که می‌توانند به شما در غلبه بر افسردگی، احساس شادی و امید دوباره و بازیابی
    زندگی‌تان کمک کنند.

Leave a Reply

Your email address will not be published.