• Sun. Nov 28th, 2021

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि नशा एक सामाजिक बुराई है, हमें नशे से युवा पीढ़ी को दूर रखना है।

Byadmin

Jun 26, 2020

अम्बाला, 26 जून:- गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि नशा एक सामाजिक बुराई है, हमें नशे से युवा पीढ़ी को दूर रखना है। उन्होंने कहा कि अतंर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर हमें संकल्प लेना है कि हम सब मिलकर हरियाणा को नशा मुक्त बनाने में अपना पूर्ण योगदान देंगे।  गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रतिवर्ष 26 जून को दुनियाभर में अंतर्राष्ट्रीय नशा मुक्ति दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को नशे से मुक्त करवाना तथा इसके दुष्प्रभावों के बारे में जागरूक करना है। नशा करने वाला व्यक्ति सामाजिक तौर पर चेतना शून्य हो जाता है जिसके चलते समाज में अपराध व घरेलू हिंसा जैसी गैर कानूनी हरकतो को बढ़ावा मिलता है। इतना ही नहीं नशीले पदार्थों के उपयोग से न केवल व्यक्ति के मानसिक संतुलन पर प्रभाव पड़ता है बल्कि उसको भयंकर बीमारियों का सामना भी करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि नशे पर रोक लगाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा कारगर कदम उठाए जा रहे है। हम सबको मिलकर नशे को जड़ से खत्म करना है। विशेषकर युवा पीढ़ी को नशे से बचाना है। उन्होंने यह भी बताया कि प्रदेश के विभिन्न जिलों में 56 नशा मुक्ति केन्द्र कार्य कर रहे हैं, इसके अलावा 2 पूर्नवास केन्द्र तथा 22 नर्सिंग होम भी नशे की लत से पीडि़त व्यक्तियों को इस बुराई से लडऩे में उसकी मदद कर रहे हैं। इन व्यसनों से ग्रसित व्यक्ति को नशे के कुचक्र से निकालने के लिए उनके परिवार व समाज के सहयोग एवं सहानूभूति की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि माता-पिता को चाहिए कि वे बच्चों को इस बुराई से दूर रखने के लिए उनके साथ अधिक से अधिक समय बिताएं, उनकी समस्याएं सुनें तथा उनसे मैत्रीपूर्ण व्यवहार करें।

One thought on “स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि नशा एक सामाजिक बुराई है, हमें नशे से युवा पीढ़ी को दूर रखना है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed