• Sat. Oct 23rd, 2021

स्वावलंबन, स्वाभिमान, सुरक्षा, स्वामित्व, सरंक्षण और समाधान के क्षेत्र में आए दिन नई और प्रेरक उंचाईयों को छू रहा है

Byadmin

Jun 17, 2021

स्वावलंबन, स्वाभिमान, सुरक्षा, स्वामित्व, सरंक्षण और समाधान के क्षेत्र में आए दिन नई और प्रेरक उंचाईयों को छू रहा है हरियाणा प्रदेश–टेस्ट-ट्रेंक-ट्रेंस-ट्रिट की नीति और व्यवस्था तोड़ रही हैं कोरोना की कमर:-गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।
अम्बाला, 17 जून:- गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश सरकार ने चहुंमुखी विकास के साथ-साथ स्वावलंबन, स्वाभिमान, सुरक्षा, स्वामित्व, संरक्षण, स्वायतता, शिक्षा, समाधान को नए आयाम देते हुए नई दिशा व दशा देने का काम किया हैं। अंत्योदय की भावना से हमने सदैव राज्य के प्रत्येक वर्ग का ध्यान रखा है और यह प्रयास भविष्य में जारी रहेगें। हमारा मुख्य उद्देश्य जन सेवा हैं और सेवा के कार्य को हम निरन्तरता में जारी रखेगें।
गृह मंत्री ने बताया कि स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में भी प्रदेश सरकार ने ऐसे कार्य किए है जो दूसरों के लिए प्ररेणा देने का काम कर रहें हैं। टेस्ट-ट्रेंक-ट्रेंस-ट्रिट की नीति अपनाई, ऑक्सीजन बैड से युक्त कोविड केयर सैन्टरों की स्थापना, कोविड संजीवनी अस्पतालों का संचालन, मुफ्त कोविड टीकाकरण, होम आईसोलेटिड मरीजों हेतू घर पर स्वास्थ्य सेवाएं, कोविड प्रभावित मरीजों हेतू स्वास्थ्य एंव आर्थिक पैकेज भी लागू करने का काम भी किया गया हैं। गृह मंत्री ने कहा कि समूचे हरियाणा प्रदेश में समान रूप से विकास कार्यो को करवाकर लोगों के विश्वास को जीतने का काम किया हैं। हम सबकी सरकार विकास की नई गाथा लिखने का काम करते हुए प्रदेश निरन्तर उन्नत्ति के शिखर की ओर अग्रसर हैं। उन्होनें कहा कि लगभग 600 दिनों में विकास रूपी परियोजनाओं के साथ-साथ अन्य कल्याणकारी योजनाओं को भी क्रियान्वित करने का काम किया गया है। कोरोना काल का समय होने के बावजूद प्रदेश में विकास की रफतार निरन्तर जारी हैं और यह रफतार आगे भी जारी रहेगी।
उन्होनें कहा कि सरकारी नौकरियों के लिए एकल पंजीकरण की व्यवस्था की गई हैं। इसके साथ-साथ परिवार पहचान पत्र पोर्टल से 100 योजनाओं और सेवाओं को जोड़ा, परिवहन विभाग में ऑपेशन शुद्धि, सीएम विंडो द्वारा शिकायतों का समाधान, भूमि सम्बन्धी नो ड्यूज प्रमाण पत्र प्राप्त करने हेतू एनडीसी पोर्टल, विभिन्न विभागों व बोर्डों के साथ वैट, जीएसटी, परिवहन करों और स्टाम्प डयूटी इत्यादि के बकायों से सम्बधिंत विवादों का समाधान किया गया हैं और यह सुशासन के परिणाम हैं।
उल्लेखनीय हैं कि स्वाभिमान के दृष्टिगत भी नए आयाम स्थापित किए गए हैं। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान, मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना, एमएसपी पर सर्वाधिक 11 फसलों की खरीद, मेरी फसल मेरा ब्यौरा, ई-खरीद पोर्टल, मेरा पानी मेरी विरासत, हर-हित रिटेल स्टोर, भावांन्तर भरपाई योजना, बागवानी व्यवसायिक, फसलों को प्रोत्साहन, अनुसूचित जाति/जनजाति हेतू कल्याणकारी योजनाएं, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, दिव्यांगों को प्रोत्साहन इत्यादि शामिल हैं। स्वालंबन की नई परिभाषा लिखी गई हंै। युवाओं के कौशल विकास, विभिन्न व्यवसायिक एवं उद्योगिक प्रशिक्षण के अवसर, रोजगार के अवसर, उघोगों का विस्तार, व्यापारियों की सुविधाएं शामिल हैं। उन्होनें यह भी बताया कि स्वामित्व का अधिकार देेने में प्रदेश में बेहतर कार्य किया गया हैं। इस कार्य के तहत लालडोरा मुक्त लागू करने वाला हरियाणा पहला राज्य हैं और शहरी सम्पत्ति का मालिकाना हक देने में भी हरियाणा के अग्रिम स्थान हासिल किया हैं। शिक्षा क्षेत्र में भी प्रदेश सरकार ने नए मुकाम हासिल किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *