• Tue. Jan 18th, 2022

स्वामित्व योजना एक अत्यंत महत्वपूर्ण योजना–मिशन मोड़ के तहत बेहतर समन्वय के साथ सम्बन्धित अधिकारी करें कार्य:-डीसी विक्रम सिंह।

Byadmin

Aug 8, 2021


अम्बाला, 8 अगस्त:-
 हरियाणा के वित्तायुक्त (एफसीआर) संजीव कौशल ने चण्डीगढ़ से आयोजित वीसी के माध्यम से उपायुक्तों से स्वामित्व योजना के तहत किए जा रहे कार्यों बारे विस्तार से जानकारी लेते हुए इस विषय के तहत जुडे कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिये।
वित्तायुक्त ने वीसी के माध्यम से स्वामित्व योजना के तहत ड्रोन फ्लाईंग, प्रोपर्टी आईडी रजिस्टे्रशन, पंचायत सम्पत्ति, मोर्डन रिवैन्यु रिकार्ड रूम के साथ-साथ एंजैडे में रखे बिन्दुओं बारे विस्तार से जानकारी लेते हुए समीक्षा की। उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना के तहत मिशन मोड के तहत कार्यों में तेजी लाएं ताकि निर्धारित मापदंडों की पालना करते हुए सम्बन्धित को इस योजना को लाभ दिलवाया जा सके। उन्होंने मोर्डन रिकार्ड रूम के तहत चल रहे रिकार्ड संबधी दस्तावेजों की स्कैनिंग के कार्य को भी समयबद्ध तरीके के तहत करने के निर्देश दिये। वहीं जो नक्शे प्राप्त हुए हैं उनके तहत क्लेम ऑब्जैक्शन के कार्य को पूरा करते हुए नक्शे को सर्वे ऑफ इंडिया को भिजवाना सुनिश्चित करें ताकि आगामी कार्रवाई में तेजी लाई जा सके। राजस्व विभाग संबधी जो मसावियां (पुराना रिकार्ड) है उसे निश्चित समय के तहत स्कैन करते हुए सर्वे ऑफ इंडिया को भिजवाएं और वहां से स्कैनिंग का कार्य पूरा होने के बाद इसे वापिस रिकार्ड रूम में लाएं ताकि सारा रिकार्ड डिजिटल हो सके।
उपायुक्त विक्रम सिंह ने वित्तायुक्त को अवगत करवाते हुए कहा कि जिले में स्वामित्व योजना को लेकर बेहतर तरीके से कार्य किए जा रहे हैं। पिछले सप्ताह में स्वामित्व योजना के तहत तेजी लाते हुए रजिस्ट्रीयों के कार्यों में भी तेजी आई है। वीसी में जो दिशा-निर्देश मिले है उनकी अनुपालना के तहत कार्यों में तेजी लाई जायेगी।
वीसी को देखने और सुनने के उपरांत उपायुक्त ने सम्बन्धित अधिकारियो की बैठक लेते हुए कहा कि वे बेहतर समन्वय के साथ इस विषय से जुड़े कार्यो में तेजी लाएं। उन्होंने कहा कि इस कार्य को हमें एक मिशन मोड के तहत करना है ताकि योजना से जुड़े लाभार्थियों को इसका लाभ दिलवाया जा सके। उपायुक्त ने कहा कि स्वामित्व योजना अत्यंत महत्वपूर्ण है। स्वामित्व योजना के तहत सभी प्रोपर्टी की आईडी होना अनिवार्य है, इसलिए सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को इस कार्य में विशेष रूचि लेते हुए इसे करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिन ग्राम पंचायतों में दावे व आपत्तियों का निपटान हो चुका है वहां पर निर्धारित मापदंडों के तहत रजिस्ट्रीयों के कार्य में तेजी लाएं। उन्होंने डीडीपीओ को भी निर्देश दिये कि वे भी इस विषय से जुड़े कार्यों में तेजी लाना सुनिश्चित करवाएं। उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना को लेकर मुख्यालय द्वारा निरंतर मोनिटरिंग की जा रही है। हर सप्ताह इस विषय को लेकर क्या-क्या कार्य कर लिए गये है उस पर निरंतर निगरानी रखी जा रही है। इसलिए हमें इस कार्य को बेहतर समन्वय के साथ करना है।
बैठक में डीआरओ राजबीर धीमान, डीडीपीओ रेणू जैन के साथ-साथ अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *