• Sat. Oct 23rd, 2021

स्वस्थ्य एवं निरोग शरीर के लिए योग को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाने अपील:मनोहर लाल

चंडीगढ़, 17 जून- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रदेश के लोगों से स्वस्थ्य एवं निरोग शरीर के लिए योग को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाने अपील की है क्योंकि योग मन, आत्मा और शरीर को जोड़ता है और हमें सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष  कोविड-19 के चलते लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए हमें केन्द्रीय आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए शीर्ष वाक्य, ‘‘घर से योग-परिवार के साथ योग’’ की पालना करनी होगी।        मुख्यमंत्री ने 21 जून, 2020 को छठे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए प्रदेश के लोगों को संदेश देते हुए कहा कि कालांतर में लम्बे समय से देश गुलाम रहा, जिस कारण योग आम जन से हटकर ऋषि-मुनियों तक सीमित हो गया था। परन्तु वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से एक नई क्रांति आई, जिसमें योग लोगों की जीवन शैली का हिस्सा बना और इस प्रकार से भारत की इस प्राचीन विधा को पुन: जीवित किया गया। उन्होंने कहा कि इस वर्ष हम पहले की भांति राज्य स्तर पर योग के सामुहिक कार्यक्रम तो नहीं कर सकते परंतु अपने घर में रहकर तथा अपने परिवार के साथ योग कर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस तो मना ही सकते हैं।        मुख्यमंत्री ने कहा कि आज योग ने लोगों के स्वास्थ्य का कायाकल्प कर दिया है और अब तो प्रदेश का युवा भी योग को अपनी दैनिक जीवनचर्या का हिस्सा बना रहे हैं। उन्होंने लोगों से आयुष मंत्रालय द्वारा जारी, ‘‘मेरा जीवन-मेरा योग’’ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता में भी भाग लेने की अपील की है। कोविड-19 के चलते लोगों की मानसिकता में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आओ योगासन का अभ्यास करें और प्रसन्नता फैलाएं।        उल्लेखनीय है कि छह वर्ष पूर्व श्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रस्ताव पारित करवाकर योग को 177 देशों का समर्थन हासिल करवाकर अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरूआत करवाई थी, जिसके परिणामस्वरूप अब विश्व के 200 से अधिक देश योग दिवस मनाने लगे हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed