• Sat. May 28th, 2022

साइकिल रैली के दौरान देशवासियों से मिलने वाले प्यार और आशीर्वाद से छू मंतर हो जाती है थकान–लोगों में विशेषकर युवाओं में अमृत महोत्सव को लेकर जानने का पूरा जज्बा:-कमांडैट नेहरा।

Byadmin

Sep 29, 2021

देर सांय किंगफिशर स्थल अम्बाला में पहुंची सशस्त्र सीमा बल की साइकिल रैली का हुआ जोरदार स्वागत–प्रशासन के अधिकारियों द्वारा फूल-मालाएं पहनाकर किया गया स्वागत–यात्रा के आगमन के समय पूरा परिसर गुंज उठा भारत माता की जय के नारों के उदघोष से।
-साइकिल रैली के दौरान देशवासियों से मिलने वाले प्यार और आशीर्वाद से छू मंतर हो जाती है थकान–लोगों में विशेषकर युवाओं में अमृत महोत्सव को लेकर जानने का पूरा जज्बा:-कमांडैट नेहरा।
अम्बाला 29 सितम्बर:- आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में सशस्त्र सीमा बल द्वारा निकाली जा रही साइकिल यात्रा आज सांय किंगफिशर पर्यटन स्थल अम्बाला शहर पहुंची। यहां पहुंचने पर डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, अतिरिक्त अधीक्षक अभियंता भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड रविन्द्र श्योकंद, पशुपालन विभाग से डा0 अजमेर सांगवान, एसडीओ हरप्रीत सिंह, श्याम सुंदर व अन्य गणमान्य लोगों ने साइकलिंग की अगुवाई कर रही सशस्त्र सीमा बल के कमांडैट अधिकारी अनिल नेहरा व अन्य प्रतिभागियों को फूलों की माला पहनाकर उनका भव्य स्वागत किया। साइकिल यात्रा आज प्रात: यह 7.30 बजे मधुबन अकादमी करनाल के लिए रवाना हुई।
सशस्त्र सीमा बल के कमांडट अधिकारी एवं साइकिल यात्रा की अगुवाई कर रहे अनिल नेहरा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में देश के विभिन्न स्थानों से 10 साइकिल यात्रा का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में केन्द्रीयकृत प्रशिक्षण केन्द्र सपड़ी हिमाचल प्रदेश से यह साइकिल यात्रा 26 सितम्बर को शुरू हुई है तथा वहां से शुरू होकर उना व रोपड़ से होते हुए आज यहां अम्बाला पहुंची है। उन्होंने कहा कि इस यात्रा में 15 प्रतिभागी शामिल हैं। यह साइकिल यात्रा 550 किलोमीटर का सफर तय करते हुए 2 अक्तूबर को दिल्ली राजघाट पहुंचेगी।
नेहरा ने इस मौके पर यह भी बताया कि साइकिल यात्रा के माध्यम से हम शहीदों को नमन करते हुए जहां भी रास्ते में शहीदी स्मारक आ रहे हैं वहां पर जाकर उन्हें श्रद्धासुमन भी अर्पित कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इस यात्रा के माध्यम से हम यूथ एवं हमारे बच्चों को स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत कर रहे हैं ताकि वे भारत के नवनिर्माण में अपना योगदान दे सकें। उन्होने पत्रकारों से बातचीत करते हुए यह भी बताया कि यात्रा के दौरान थकावट तो हो जाती है लेकिन जैसे-जैसे जहां भी यात्रा पहुंचती है वहां पर जिला प्रशासन, मीडियाकर्मी व लोगों द्वारा जो स्नेह एवं प्यार दिया जा रहा है उससे सारी थकावट छू मंतर हो जाती है। साइकिल यात्रा में शामिल सभी प्रतिभागी पूरी उर्जा के साथ यात्रा की अगुवाई कर रहे हैं।
उन्होंने इस मौके पर यह भी बताया कि इस साइकिल यात्रा के माध्यम से संदेश दिया जा रहा है कि आजादी हमें बड़ी मुशिकल से मिली थी। स्वतंत्रता संग्राम में हमारे वीर सैनिकों ने बलिदान देकर देश को आजादी दिलाई थी। हमें अपनी युवा पीढ़ी को स्वतंत्रता संग्राम से जुड़ी घटनाओं के बारे में जानकारी दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि निसंदेह इस साइकिल यात्रा से युवाओं को काफी महत्वपूर्ण जानकारी मिल रही है। लोग विशेषकर युवा पीढ़ी इस बारे उत्सुकता भरे लहजे में पूछ रही है और हम जहां से भी गुजरते हैं हमें पूरा मान-सम्मान मिलता है।

8 thoughts on “साइकिल रैली के दौरान देशवासियों से मिलने वाले प्यार और आशीर्वाद से छू मंतर हो जाती है थकान–लोगों में विशेषकर युवाओं में अमृत महोत्सव को लेकर जानने का पूरा जज्बा:-कमांडैट नेहरा।”
  1. Hello, you used to write great, but the last few posts have been kinda boring… I miss your great writings. Past several posts are just a bit out of track! come on!

Leave a Reply

Your email address will not be published.