• Sat. Oct 23rd, 2021

सरकारी नौकरियों में भी हरियाणा के युवाओं को दी जाए प्राथमिकता : निर्मल सिंह

Byadmin

Nov 6, 2020

 अम्बाला छावनी: राज्य में चल रही कंपनियों, साेसाइटी, ट्रस्ट और फर्म में हरियाणा के युवाओं के लिए नौकरी में 75 प्रतिशत आरक्षण संबंधी विधेयक पर कटाक्ष करते हुए हरियाणा डैमाेक्रेटिक फ्रंट के संस्थापक पूर्व मंत्री निर्मल ने कहा है कि बीते 6 वर्षों में प्रदेश की सरकारी नौकरियों में हरियाणा के युवाओं को प्राथमिकता देने की जगह दूसरे राज्यों के युवाओं को नौकरियों पर रखा गया है। निजी क्षेत्र के नौकरियों के संबंध में विधेयक लाने से पहले सरकार को सरकारी नौकरियों में हरियाणा के युवाओं को हिस्सेदारी सुनिश्चित करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाणा में हुए जींद उपचुनाव में राजनीतिक लाभ उठाने के लिए 1667 क्लर्को के पदों पर सारी नियुक्तियां जींद से ही करके सिर्फ हरियाणा के युवाओं के हितों पर कुठाराघात किया गया है। उन्होंने कहा कि स्टाफ सिलेक्शन कमीशन का गठन भी संसदीय क्षेत्र के आधार पर किया जाना चाहिए ताकि किसी भी संसदीय क्षेत्र के युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ न हो सके और सभी संसदीय क्षेत्रों की हिस्सेदारी सुनिश्चित की जा सके। निर्मल सिंह ने कहा कि हरियाणा के सभी जिलों से नौकरियों और विकास के मामले में किए जा रहे भेदभाव को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाणा डैमोक्रेटिक फ्रंट प्रदेश के सभी इलाकों के विकास और सरकारी नौकरियों में भागेदारी के मुद्दे पर व्यापक जन जागरण अभियान चला रहा है और इस मुद्दे पर हाेने वाली ज्यादती के खिलाफ संघर्ष के लिए हमेशा वचनबद्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *