• Wed. Dec 1st, 2021

सरकारी अस्पतालों में डेंगू के रोगियों के लिये निशुल्क सिंगल डोनर प्लेटलेटस की नई पहल शुरू करने वाला हरियाणा उत्तर भारत का पहला राज्य:-गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।

Byadmin

Nov 19, 2020

एनिमिया मुक्त भारत अभियान में हरियाणा समूचे देश में प्रथम–सरकारी अस्पतालों में डेंगू के रोगियों के लिये निशुल्क सिंगल डोनर प्लेटलेटस की नई पहल शुरू करने वाला हरियाणा उत्तर भारत का पहला राज्य:-गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।
अम्बाला, 19 नवम्बर:-
 गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि एनिमिया मुक्त भारत अभियान में हरियाणा देश में प्रथम है। इसी प्रकार सरकारी अस्पतालों में डेंगू के रोगियों के लिये निशुल्क सिंगल डोनर प्लेटलेटस की नई पहल शुरू करने वाला हरियाणा उत्तर भारत का पहला राज्य है। उन्होंने यह भी बताया कि हरियाणा देश का पहला राज्य है, जहां पर हैपेटाइटिस सी व बी की दवाईयां भी मुफ्त उपलब्ध हैं।
जानकारी के क्रम में विज ने बताया कि हरियाणा सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं की ओर विशेष तौर पर ध्यान दे रही है। सरकारी अस्पतालों में लगभग 500 तरह की दवाईयां, 228 सर्जरी, 70 प्रकार की जांचे तथा 21 प्रकार की दंत चिकित्सा प्रक्रियाओं के ऑप्रेशन भी मुफ्त किये जाते हैं। लोगों को घर पर ही मुफ्त चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाने के लिये ई-संजीवनी ओ.पी.डी. की शुरूआत की गई है। इसमें डॉक्टर रोगी को लैब टैस्ट या दवाईयों की पर्ची भी ऑनलाईन उपलब्ध करवायेगा, जो चिकित्सा के लिये हरियाणा की सभी अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये मान्य होगी। उन्होंने बताया कि घर-द्वार पर ही इलाज करने के लिये प्रदेश में मैडिकल मोबाईल यूनिट की सुविधा भी प्रदान की जा रही है।
उन्होंने यह भी बताया कि गरीब व जरूरतमंद परिवारों को आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत 5 लाख रुपये तक का सालाना मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान की जा रही है और अब तक 22 लाख गोल्डन कार्ड बनाये गये हैं तथा 1.74 लाख रोगियों का 150 करोड़ रुपये से मुफ्त इलाज किया गया है। इस योजना में कोरोना रोगियों को भी शामिल किया गया है। सिरसा, यमुनानगर तथा कैथल में तीन नये मैडिकल कालेज खोलने का मंजूरी दी गई है। इसी प्रकार फरीदाबाद में लगभग 250 करोड़ रुपये की लागत से अटल बिहारी वाजपेयी राजकीय मैडिकल कालेज खोला जा रहा है। हैबतपुर जिला जींद में 663 करोड़ 83 लाख रुपये की लागत से राजकीय मैडिकल कालेज व अस्पताल खोला जा रहा है। कोरियावास, महेन्द्रगढ़ में लगभग 600 करोड़ रुपये की लागत से राजकीय मैडिकल कालेज निर्माणाधीन है तथा जींद में 664 करोड़ रुपये की लागत से मैडिकल कालेज के निर्माण की स्वीकृति दी गई है। इसके अतिरिक्त भिवानी और गुरूग्राम में भी मैडिकल कालेज खोले जा रहे हैं।
श्री विज ने कहा कि स्वस्थ हरियाणा-सशक्त हरियाणा को लेकर स्वास्थ्य सुविधाओं में इजाफा किया जा रहा है। अम्बाला कैंट, रेवाड़ी व पानीपत के नागरिक अस्पतालों को 100 से बढ़ाकर 200 बिस्तरों का किया गया है। गांव कुटेल करनाल में पंडित दीन दयाल उपाध्याय राजकीय स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय का कार्य प्रगति पर है। शहीद हसन खान मेवाती राजकीय मैडिकल कालेज नल्हड़ जिला नूंह में 5 एकड़ भूमि पर 135 करोड़ 75 लाख रुपये की लागत से डेंटल कालेज खोलने की प्रक्रिया शुरू की गई है। सफीदों जिला जींद में नर्सिंग कालेज खोला जायेगा। कैथल, कुरुक्षेत्र, रेवाड़ी, पंचकूला में एक-एक व फरीदाबाद में दो नर्सिंग कालेज लगभग 200 करोड़ रुपये की लागत से निर्माणाधीन हैं। चैनत हिसार व ऊन चरखीदादरी में नये आयुर्वेदिक औषधालय खोले गये हैं। गुरूग्राम, फरीदाबाद, रोहतक, पंचकूला व करनाल में प्लाजमा बैंक खोले गये हैं। पंचकूला के सेक्टर 3 में 22 करोड़ रुपये की लागत से प्रदेश की पहली संयुक्त फू ड व ड्रग टेस्टिंग लैब खोलने को स्वीकृति दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed