• Thu. Oct 21st, 2021

म्हारा गांव जगमग गांव’ योजना

Byadmin

Oct 29, 2020

चंडीगढ़, 29 अक्तूबर- हरियाणा के बिजली वितरण निगमों द्वारा ‘म्हारा गांव जगमग गांव’ योजना को साकार करते हुए हरियाणा दिवस पर प्रदेश के 123 और गांवों को 24 घंटे बिजली की आपूर्ति शुरू कर दी जाएगी। इसके बाद इस योजना के तहत प्रदेश के 4878 गांवों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति शुरू हो जाएगी। इससे प्रदेश के लगभग 70 प्रतिशत गांव जगमग गांव हो जाएंगे।

         बिजली वितरण निगमों के चेयरमैन श्री शत्रुजीत कपूर ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि 1 नवंबर से जो नए 123 गांव जगमग होंगे, उनमें उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के सोनीपत सर्कल के 5 गांव, पानीपत के 6, रोहतक के 6, झज्जर के 11 और कैथल के 37 गांव तथा दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अंतर्गत पलवल के 30, नारनौल के 18, भिवानी के 3 और फतेहाबाद के 7 गांव शामिल हैं।

         उन्होंने बताया कि अधिकारियों व कर्मचारियों की कठोर मेहनत के बाद लाइल लॉस कम हुए हैं। बिजली निगमों का ग्रामीण क्षेत्र का लाईन लॉस जो 70 प्रतिशत से अधिक था उसमें अप्रत्याशित सुधार हुआ है, जिसके चलते 7000 गांवों में से अभी 4755 गांवों में 24 घंटे बिजली मिल रही है, जिनकी संख्या 1 नवंबर, 2020 से 4878 हो जाएगी।

         उन्होंने बताया कि प्रदेश के पचंकूला, अंबाला, कुरुक्षेत्र, यमुनानगर, करनाल, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सिरसा, रेवाड़ी और फतेहाबाद ऐसे जिले हैं जहां पहले से ही 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जा रही है। अब नए गांवों के साथ-साथ पूर्व में चलाए गए अभियान के तहत यूएचबीवीएन के 605 फीडरों के अंतर्गत 2800 गांव जिसमें अंबाला सर्कल के 615, कुरुक्षेत्र सर्कल के 412, करनाल सर्कल के 435, यमुनानगर सर्कल के 920, पानीपत सर्कल के 39, सोनीपत सर्कल के 88, कैथल सर्कल के 233, रोहतक सर्कल के 20 और झज्जर सर्कल के 38 गांव शामिल हैं जिनको 24 घंटे बिजली सप्लाई दी जाएगी। इसी प्रकार, डीएचबीवीएन में 591 फीडरों के अंर्तगत 2078 गांव जिसमें गुरुग्राम सर्कल के 250, फरीदाबाद सर्कल के 135, सिरसा सर्कल के 354, रेवाड़ी सर्कल के 418, फतेहाबाद सर्कल के 313, नारनौल सर्कल के 234, भिवानी सर्कल के 156, हिसार सर्कल के 52, पलवल सर्कल के 78, जींद सर्कल के 3 व मेवात सर्कल के 85 गांव शामिल हैं जिनको 24 घंटे बिजली सप्लाई दी जाएगी।

         उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की दूरगामी सोच ने प्रदेश में बिजली निगमों के घाटे को उभारकर फायदे में पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने आने वाले 18 महीनों में प्रदेश के सभी गांवों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति का लक्ष्य निर्धारित किया है। उन्होंने बिजली वितरण कंपनियों के समस्त कर्मचारियों और इंजीनियरों को निर्देश दिए कि जल्द ही हरियाणा के बचे हुए करीब 30 प्रतिशत गांवों को भी इस योजना के साथ जोड़ा जाए। इसी उद्देश्य के साथ निरंतर कार्य करने से समग्र हरियाणा में म्हारा गांव जगमग गांव योजना का उद्देश्य पूर्ण होगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा के खेत में किसान का कृषि कार्य और औद्योगिक इकाईयों का उत्पादन बिजली आपूर्ति की वजह से जरा भी बाधित न हो यही बिजली कंपनियों का उद्देश्य है।

78 thoughts on “म्हारा गांव जगमग गांव’ योजना”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *