• Wed. Dec 1st, 2021

मोदी सरकार भारत की आधी महिला आबादी का सशक्तिकरण व् सुदृढ़ीकरण के लिए दृढ़ संकल्पित है।

Byadmin

Oct 18, 2021


अम्बाला, 18 अक्तूबर:-
 गेल की पूर्व डायरेक्टर व् भाजपा की प्रदेश कार्यकारणी सदस्य श्रीमति बंन्तो कटारिया ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया कि आज महिलाओं के लिए संपत्ति के अधिकार का मुद्दा इसलिए महत्वपूर्ण हो गया है क्योंकि संपत्ति का अधिकार महिलाओं को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महिलाओं के आर्थिक सुदृढ़ीकरण के मुद्दे को गंभीरता से लिया है इसलिए बैंकों में  जन-धन के 44 करोड़ खाते खुले हैं उनमें 70त्न खाते महिलाओ के हैं।
मोदी सरकार ने 9 करोड ग्रामीण महिलाओं को एल.पी.जी. कनेक्शन देकर एक क्रांतिकारी कदम उठाया है साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत करोड़ों महिलाओं को मालिकाना हक दिलवा रही है। महिलाओं की आर्थिक व सामाजिक सशक्तिकरण पर जोर देते हुए श्रीमती बंन्तो कटारिया ने कहा कि आज स्वतंत्रता के 75वें अमृत महोत्सव पर भारत की आधी महिला आबादी का आर्थिक सुदृढ़ीकरण  देश के विकास की सर्व प्रमुख एवं प्राथमिक आवश्यकताओ में से एक है।
बंन्तो  कटारिया ने कहा की भारत की स्वाभिमानी जनता ने पहली बार 17वीं लोकसभा में 78 महिलाओं को मेंबर ऑफ पार्लिमेंट बनाकर महिलाओं के सशक्तिकरण में क्रांतिकारी कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि भूमि और संपत्ति का स्वामित्व विश्व के अधिकांश देशों में आर्थिक स्थिरता का सबसे मजबूत, गारंटी शुद्धा उत्तराधिकार माना जाता है द्य इन लाभों में खाद्य सुरक्षा, बच्चों के लिए स्वास्थ्य व शिक्षा में निवेश भी शामिल है।
बंन्तो  कटारिया ने मांग की विश्व में महिलाओं के आर्थिक व सामाजिक सशक्तिकरण के लिए संयुक्त राष्ट्र, विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष जैसे स्थानों में तत्काल सुधार की आवश्यकता है। इन सभी स्थानों में  महिलाओं के अधिकारो के बारे में अधिक पारदर्शी होने और महिलाओं के प्रतिनिधित्व देने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed