• Sun. Oct 24th, 2021

मातृभाषा हिन्दी के संरक्षण और संर्वधन के लिए एकता के सूत्र में बंधकर काम करने की जरूरत:-गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।

Byadmin

Sep 14, 2020

भारतीय संस्कृति और सभ्यता की संवाहक है हिन्दी भाषा–देवनागरी में लिखी गई हिन्दी भाषा को अपनाने के उपलक्ष में 14 सितम्बर को मनाया जाता है हिन्दी दिवस–समाज की परम्पराओं और संस्कृति को जोडऩे का काम करती है हिन्दी–
अम्बाला, 14 सितम्बर:-
 हिन्दी भाषा हमारी मातृभाषा है, यह हमें अपनी सामाजिक और राष्टï्रभक्ति की परम्पराओं से जोडक़र आगे बढऩे की प्रेरणा देती है। भारतीय संस्कृति और सभ्यता की संवाहक है हिन्दी। यह बात हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने प्रदेशवासियों को हिन्दी दिवस के अवसर पर बधाई देते हुए कही। उन्होंने कहा कि देवनागरी में लिखी गई हिन्दी भाषा को अपनाने के उपलक्ष में 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस मनाया जाता है। हिन्दी सामाजिक परम्पराओं और संस्कृति को जोडऩे का काम करती है जिसके चलते विकास के नये आयामों का सूत्रपात होता है। हमें हिन्दी के प्रसार के लिए निरंतरता में सार्थक प्रयास करते रहना चाहिए।
हिन्दी दिवस के अवसर पर हिन्दी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए विज ने कहा कि हिन्दी एक दूसरे को जोडऩे का काम करती है। हिन्दी का अपना अलग ही महत्व है। मातृभाषा हिन्दी के संरक्षण एवं संर्वधन के लिए हमें निरंतरता में काम करने की जरूरत है। भारतीय संस्कृति की रक्षा के लिए हिन्दी का संरक्षण एवं संर्वधन बहुत ही लाजमी है। उन्होंने यह भी कहा कि प्राचाीन सभ्यता एंव आधुनिक प्रगति के बीच हिन्दी एक प्रेरक सेतू का काम कर रही है। हमें हिन्दी को बढ़ावा देने के लिए हमेशा ही अनुसरणीय काम करने की जरूरत है, हमें राष्टï्रीय भाषा का सम्मान करते हुए अन्य को भी ऐसी सीख और संदेश देने की जरूरत है।
कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने संबधी विषय पर उन्होंने कहा कि कोरोना ने हमें प्रभावित किया हैं लेकिन सरकार और समाजसेवी संस्थाओं के साथ-साथ प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयासों के चलते कोरोना संक्रमण को रोकने का काम किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि इसके संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सावधानी बहुत जरूरी है। मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना तथा सफाई का नियमित रूप से प्रयोग इसके संक्रमण को रोकने में सहायक सिद्घ होगा।
बॉक्स:- उन्होंने यह भी कहा कि जब तक कोरोना को खत्म करने की दवाई नहीं बनती तब तक हमें किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरतनी है। हमें जनसेवा के सभी कार्य सावधानी के साथ करने है। बेसक कोरोना चल रहा है लेकिन हमारे जनता के प्रति जो कत्र्तव्य है हमें उन्हें भी पूरा करना है, इसलिए सरकार की हिदायतों और निर्देशों की अनुपालना करते हुए हम कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए अनवरत रूप से काम करते रहें। आने वाले समय में अपने संयुक्त प्रयासों के चलते इसे फैलने से रोकने में अवश्य ही सफल होंगे।

Related Post

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय से शनिवार को हरियाणा खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के चेयरमैन श्री रामनिवास ने शिष्टाचार मुलाकात की और बोर्ड की गतिविधियों की जानकारी दी।
राजकीय महाविद्यालय नारायणगढ़ में प्राचार्य संजीव कुमार की अध्यक्षता में महिला प्रकोष्ठ के तहत करवा चौथ की पूर्व संध्या पर इस उपलक्ष में मेहंदी प्रतियोगिता तथा नेल आर्ट प्रतियोगिता  का आयोजन किया गया।
कैम्पेन आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अध्यक्ष एवं सैशन जज सुश्री नीरजा कुलवंत कलसन के निर्देशानुसार रविवार 24 अक्तूबर को संयुक्त राष्ट्र दिवस के अंतर्गत आज हर्बल पार्क अम्बाला शहर के नजदीक वॉक थॉन (शांति मार्च) का आयोजन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed