• Sat. Oct 16th, 2021

महिला एवं बाल विकास विभाग अम्बाला द्वारा आज पंचायत भवन अम्बाला शहर के सभागार में पोषण मेले का आयोजन किया गया।

Byadmin

Sep 30, 2021

अम्बाला, 30 सितम्बर:-
महिला एवं बाल विकास विभाग अम्बाला द्वारा आज पंचायत भवन अम्बाला शहर के सभागार में पोषण मेले का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में उपायुक्त विक्रम सिंह ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत कर दीपशिखा प्रज्जवलित करके कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। इस मौके पर उन्होनें महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बनाई गई रंगोली, विभिन्न तरह के व्यजंनों से तैयार की गई रैस्पी के साथ-साथ विभाग द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। उन्होंने इस मौके पर संदेश बोर्ड अपने रिमार्कस भी दिए।
उपायुक्त विक्रम सिंह ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा पोषण माह के तहत महिलाओं व किशोरियों को उनके पोषण सम्बधी दी जा रही जानकारी की सराहना करते हुए आज यहां पर जो प्रदर्शनी लगाई गई और उसमें विभिन्न प्रकार के व्यजंनों से जो रैस्पी तैयार की गई है उसकी भी भूरी-भूरी प्रशंसा भी की। उन्होनें कहा कि यह रैस्पी सभी को आर्कर्षित करने का काम कर रही हैं। इनमें गर्भवती महिलाओं के साथ-साथ दूध पिलाने वाली माताओं व किशोरियों को उनके स्वास्थ्य के प्रति किस अवस्था में किस डाईट प्रयोग करना है उसके बारे बताया गया हैं। यह व्यजंन घर में ही उपलब्ध चीजों से आराम से बनाई जा सकती हैं। उन्होंने इस अवसर पर यह भी कहा कि हमारी माताओं और बहनों में सबसे ज्यादा आयरन की कमी होती हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा एनीमिया प्रोग्राम के तहत कार्यक्रम को चलाकर सभी महिलाओं व किशोरियों के स्वास्थ्य की जांच करते हुए यदि उनमें खून की कमी है तो उन्हें किस पोषण की आवश्यकता है, उस बारे भी जानकारी दी जा रही हैं।
उपायुक्त ने यह भी कहा कि पोषण माह के तहत सभी गर्भवती, दूध पिलाने वाली महिलाओं के साथ-साथ किशोरियों को भी उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने का काम विभाग द्वारा किया जा रहा हैं। उन्होनें कहा कि सही पोषण होगा तो महिलाओं का सम्पूर्ण विकास होगा तथा वह शारीरिक व मानसिक तौर पर मजबूत होगी। यदि वे मजबूत होगीं तो उनके बच्चों की सेहत अच्छी होगी और बच्चें भी शारीरिक व मानसिक तौर पर मजबूत होगें। जोकि देश के नवनिर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान देगें। उपायुक्त ने एक बार फिर विभाग के कार्यो की सराहना करते हुए कहा कि पोषण के बारे हम जितना जागरूक करेगें उतना ही बेहतर होगा।
इस मौके पर गर्भवती महिलाओं व दूध पिलाने वाली महिलाओं को पोषण सम्बधी व्यजंनों की टोकरी भी वितरित करने का काम किया। जिसमें फल व पंजीरी के साथ-साथ अन्य शामिल हैं। कार्यक्रम के दौरान (फलों व सब्जियों से सुसज्जित) छोटे-छोटे बच्चों द्वारा फैन्सी ड्रैस में कविताओं के माध्यम से पोषण के बारे भी संदेश दिया गया, जिसकी सभी ने तालियां बजाकर जमकर सराहना की।
इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी मनीषा गागट ने उपायुक्त विक्रम सिंह का स्वागत करते हुए पोषण माह के तहत की गई गतिविधियों के बारे विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने उपायुक्त का यहां पहुंचने पर स्टॉफ की तरफ से आभार व्यक्त किया। उन्होनें बताया कि पोषण अभियान कार्यक्रम न होकर एक जन आंदोलन और भागीदारी है। इस कार्यक्रम की सफलता में जन-जन का सहयोग बेहद आवश्यक हैं। एक सितम्बर से 30 सितम्बर तक पोषण माह के तहत आंगनवाड़ी वर्कर, सुपरवाईजर व महिला बाल विकास विभाग की टीम द्वारा विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से सही पोषण के बारे महिलाओं व किशोरियों को जागरूक करने का काम किया गया हैं। उन्होनें यह भी कहा कि इस अभियान के तहत हर व्यक्ति, संस्थान और प्रतिनिधियों से यह आशा की जा रही है कि वे अपनी जिम्मेदारी भारत को कुपोषण मुक्त बनाने में निभाएंगें।
इस मौके पर आयुष विभाग के डॉक्टर सतपाल ने भी पोषण से सम्बधित महत्वपूर्ण जानकारी सभागार में उपस्थित गर्भवती महिलाओं , दूध पिलाने वाली माताओं व बहनों को भी दी। उन्होनें पोषण से सम्बधिंत जानकारी विस्तार से दी। इस  दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैक्सीनेशन कैम्प का भी आयोजन किया गया। महिलाओं के स्वास्थ्य की भी जांच की गई।
इस मौके पर जिला कार्यक्रम अधिकारी मनीषा गागट, सीडीपीओ मीक्षा रंगा, रंजना पटेल मेहत्ता, डॉ0 सुनीधी, रेखा, सीडब्ल्यूसी मैम्बर के साथ-साथ सुपरवाईजर, आंगनवाड़ी वर्कर और अन्य गणमान्य लोग शामिल रहें।

4 thoughts on “महिला एवं बाल विकास विभाग अम्बाला द्वारा आज पंचायत भवन अम्बाला शहर के सभागार में पोषण मेले का आयोजन किया गया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *