• Thu. Jan 27th, 2022

भारत युवाओं का देश–खेलों में निरंतर बढ़ रहा है देश का रूतबा–हरियाणा के गाबरूओं की धाक, धमक और झलक खेलों में रहती है अनुकरणीय

Byadmin

Aug 12, 2021

भारत युवाओं का देश–खेलों में निरंतर बढ़ रहा है देश का रूतबा–हरियाणा के गाबरूओं की धाक, धमक और झलक खेलों में रहती है अनुकरणीय–प्रदेश सरकार खिलाडिय़ों को उपलब्ध करवा रही है बेहतरीन सुविधाएं:-गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।
अम्बाला, 12 अगस्त:-
 भारत दूनिया का एक ऐसा देश है जहां पर युवाओं की आबादी सबसे अधिक है। हरियाणा का जिक्र करें तो हरियाणा में गाबरूओं की धमक और झलक देखते ही बनती है। खेल का मैदान हो, युद्घ क्षेत्र हो या फिर सेवा का क्षेत्र हो, हर क्षेत्र में हरियाणा प्रदेश के युवाओं और युवतियों का बोलबाला है। यह अभिव्यक्ति रूपी जानकारी देते हुए हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने आगे कहा कि खेल हमारी प्राचीन धरोहर है। इतिहास के अमिट पन्नों में झांक कर देखा जाये तो पता चलता है कि विभिन्न प्रकार के खेलों में हम हमेशा ही आगे रहे हैं। हरियाणा सरकार ने खिलाडिय़ों को प्रोत्साहित और उत्साहित करने के लिये ईनामों की झड़ी लगा रखी है। ऑलम्पिक में स्वर्ण पदक विजेताओं को 6 करोड़ रुपये, रजत पदक विजेताओं को 4 करोड़ जबकि कांस्य पदक विजेता को 2.5 करोड़ रुपये देने का प्रावधान है। ऑलम्पिक एवं पैरालम्पिक खेलों के लिये क्वालीफाई करते ही खिलाड़ी को तैयारी के लिये निर्धारित राशि एडवांस में देने का सरकार का निर्णय कार्यरूप में परिणत है।
विज ने कहा कि टोक्यो में आयोजित खेलों में देश के खिलाडिय़ों ने अपनी उपस्थिति का जानदार और शानदार दम दिखाया है। हरियाणा के खिलाडिय़ों की उपस्थिति बहुत ही आकर्षक रही। अब हॉकी के साथ-साथ एथलैटिक्स में भी हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। हॉकी के खेल में हमारी बेटियों का शानदान प्रदर्शन बेमिसाल रहा। इन बेटियों के खेल से हॉकी के साथ-साथ अन्य खेलों में भी नई खेल क्रांति आयेगी। खिलाडियों की प्रतिभा पूरी तरह से निखरकर आये इस विषय को लेकर हरियाणा सरकार पूरी तरह सजग है और अपनी जिम्मेदारी का सुचारू रूप से निर्वाह कर रही है। ऑलम्पिक खेलों में भाला फेंक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक, कुश्तियों में रजत के साथ-साथ खिलाडियों ने कईं पदक देश की झोली में डाले हैं और देश ने खिलाडिय़ों का पूरा मान-सम्मान किया है। मान-सम्मान करने का जशन निरंतर जारी है। नीरज चोपड़ा को सरकार द्वारा 6 करोड़ रूपये की धनराशि के साथ-साथ अन्य सभी सुविधाएं देने का एलान पहले ही हो चुका है। इसके अलावा कुश्ती खिलाडिय़ों और पुरूष हॉकी खिलाडिय़ों के लिए भी ईनामों की बारीश हो रही है।
उल्लेखनीय है कि राज्य स्तरीय स्कूली खिलाडिय़ों की डाइट राशि 125 रुपये से बढ़ाकर 200 रुपये प्रतिदिन तथा राष्टï्रीय स्तर के खिलाडिय़ों की डाइट राशि 200 से बढ़ाकर 250 रुपये प्रतिदिन की गई है। प्रदेश के सभी गांवों में योग और व्यायामशालाएं खोलने के लक्ष्य के चलते 511 व्यायामशालाएं शुरू हो चुकी हैं। लगभग 600 का निर्माण कार्य पूरा कर लिया है तथा 26 खेल स्टेडियम निर्माणाधीन है। आने वाले समय में खिलाड़ी रूचि अनुसार अपने खेल में इन सुविधाओं के चलते बेहतर प्रदर्शन कर सकेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि अम्बाला छावनी में भी करोड़ों रुपये की लागत वार हीरोज मैमोरियल स्टेडियम का निर्माण किया जा रहा है। इस स्टेडियम के बनने से सम्बन्धित खेल में रूचि रखने वाले खिलाड़ी अपनी रूचि अनुसार प्रतिभा निखार सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *