• Thu. Oct 21st, 2021

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 71वें जन्मदिन के मौके पर गृहमंत्री अनिल विज ने सुभाष पार्क अम्बाला छावनी में 7100 पौधे किए वितरित।

Byadmin

Sep 17, 2021


-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दिल में बसता है गरीब—गरीब क्या हैं, गरीब की पीड़ा क्या है, जानते है भली-भांति प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी—मोदी जैसी शख्सियत जन्म लेती हैं सदियों में एक बार—हमें उनके जीवन चरित्र से सेवा और सम्पर्ण की सीख लेने की जरूरत:-गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।

-गरीबों को उज्जवला योजना के तहत रसोई को धूंआ मुक्त करना और आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रूपए तक की निशुल्क चिकित्सा सुविधा करना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का बहुत ही साहसिक और सराहनीय कदम:- गृहमंत्री अनिल विज।

-दो प्रधान दो विधान की व्यवस्था को खत्म करने के लिए धारा-370 को खत्म करके समूचे भारत को एकता के सूत्र में बांधने का काम किया है प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने— गृहमंत्री अनिल विज।

अम्बाला, 17 सितम्बर:-
 हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि गरीब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दिल में बसता हैं। गरीबी क्या है, और गरीबी की पीड़ा क्या हैं प्रधानमंत्री इसे भलि-भांति जानते हैं, चूकि वे मुंह में सोने का चम्मच लेकर पैदा नहीं हुए। इसलिए वे सच्चाई से पूरी तरह परिचित हैं। नरेन्द्र मोदी जैसी शख्सियत सदियों में एक बार जन्म लेती हैं। हमें उनके जीवन चरित्र से सेवा और सम्पर्ण की सीख लेने की जरूरत हैं। गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज आज शुक्रवार को अम्बाला छावनी के नेताजी सुभाष पार्क में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 71वें जन्मदिन के अवसर पर आयोजित एक सादय कार्यक्रम में कार्यकत्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। विज ने कहा कि मोदी के 71वें जन्मदिवस पर 7100 पौधे रोपित किया जाएगें। उन्होनें कहा कि वितरित किए गए पौधों को लगाना ही काफी नहीं बल्कि उनका पालन-पोषण करना भी अति आवश्यक हैं। यह देखना जरूरी नहीं की कितने पौधे लगाए गए परन्तु यह देखना जरूरी है कि कितने पौधों का पालन-पोषण हो रहा हैं।

अभिव्यक्ति और सम्बोधन के अनवरत चरण में गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि 17 सितम्बर यानि आज से आगामी 7 अक्तूबर तक 20 दिनों तक सेवा और सम्पर्ण अभियान के तहत कार्यक्रम आयोजित किए जाएगें। यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अन्तर्राष्टï्रीय स्तर पर देश की बहुत बड़ी पहचान बनाने का काम किया हैं। सदियों बाद ऐसी शख्सियत जन्म लेती हैं। उनका जीवन चरित्र हम सबके लिए सेवा की सीख देने वाला हैं। पड़ोसी देश की कार्यशैली और प्रायोजित आतंकवाद सम्बधी विषय पर बोलते हुए विज ने कहा कि पाकिस्तान ने उरी में धोखे से भारतीय सेनाओं पर हमला किया। देश की सेनाओं ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में दुश्मन को उनके ही घर में घूस कर अन्दर मारा और जब पुलवामा अटैक हुआ तब प्रधानमंत्री मोदी की सूझ-बूझ और सेनाओं के पराक्रम से बालाकोट एयर स्ट्राईक हुई और दुश्मन को धराशाही करने का काम किया। अब पाकिस्तान सीधी लड़ाई नहीं लड़ सकता, इसलिए आतंकवाद का सहारा लेकर देश को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करता है, लेकिन हमारी सेना सशक्त और मजबूत है और किसी भी हमले का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। अब दुश्मन को किसी भी प्रकार का दु:ष्साहस करने के लिए कई बार सोचना पड़ता हैं।

गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में हर दिशा, हर वर्ग व हर क्षेत्र में देश को आगे ले जाने का काम किया जा रहा है तथा नव भारत का निर्माण हो रहा है। आजाद होने के बाद इतिहास में हम जितना पिछड़ गये थे, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उतनी ही तेजी से दूसरे विकसित देशों की श्रेणी में भारत को खड़ा करने का प्रयास किया जा रहा है।  इस मौके पर उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं को उनके वार्ड के मुताबिक 200-200 पौधे वितरित करने का काम भी किया। इस दौरान 7100 पौधे वितरित करने का काम किया गया। यहां पहुंचने पर गृहमंत्री ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण कर उन्हें शैल्यूट भी किया और पर्यावरण की स्वच्छता का प्रतीक मोलसरी का पौधा भी रोपित किया।

गृहमंत्री ने इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 71वें जन्मदिवस की सभी को बधाई देते हुए कहा कि आज का दिन बहुत ही शुभ दिन है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 71वें जन्मदिवस के अवसर पर अम्बाला छावनी विधानसभा क्षेत्र में 7100 पौधे वितरित करने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी कार्यकर्ताओं को वार्ड के मुताबिक 200-200 पौधे वितरित किए गये हैं जोकि कार्यकर्ता अपने वार्ड में जाकर इनको लगाने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं देखूंगा कि कितने पौधे वितरित किए गये हैं बल्कि यह देखूंगा कि कितने पौधे लगे हैं और पल्वित और पुष्पित हैं।  

गृहमंत्री ने इस अवसर पर यह भी कहा कि बड़े युगों के बाद ऐसी शख्सियत धरती पर आती है, जिसको लोग मसीहा मानते हैं। आजादी के बाद अनेकों वर्ष तक गरीबी, भुखमरी, बेरोजगारी में रहने के बाद वर्ष 2014 में हमेंं ऐसा प्रधानमंत्री मिला जिसने नये भारत का निर्माण करने का काम किया। आज के भारत की विश्व में अहम पहचान है। नरेन्द्र मोदी की वजह से आज भारत को सारे विश्व में मान-सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सार्थक प्रयासों से हिन्दुस्तान में भारत को अंतर्राष्ट्रीय पहचान मिली है। गरीबों के लिए, मजदूरों के लिए, किसानों के लिए, व्यापारियों के लिए ऐसी दृढ़ शक्ति व सोच रखने वाला और कुछ नया करने वाला प्रधानमंत्री हमें नरेन्द्र मोदी के रूप में मिला है।

गृहमंत्री ने इस मौके पर यह भी बताया कि आप सब जानते हैं कि लंबे समय तक पडौसी देश जो अशांति फैलाता था, इसके साथ दो युद्ध भी हुए, एक कारगिल का भी हुआ जिसमें 1965, 1971 व कारगिल का युद्ध शामिल हैं। पड़ौसी मूलक पाकिस्तान से जब लड़ाई नहीं लड़ी गई तो उसने आतंकवादियों के माध्यम से हमारे देश में अशांति फैलानी शुरू कर दी। वह हमारे उपर हमला करते थे, हमारे कुछ लोग शहीद हो जाते थे और वे चले जाते थे, हम केवल श्रद्धांजली देकर अपने फर्ज की पूर्ति करते थे। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों ने यदि कोई भी घटना की तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सशक्त नेतृत्व में हमारी सेना ने तुरंत बाद पाकिस्तान की सीमा में घुसकर उनके अड्डों को ध्वस्त करने का काम किया, ऐसा पहली बार हुआ है। हमारे देश का सीना गर्व से चौडा हो गया और उसके बाद पुलवामा में जो दुस्साहस किया तो उसके बाद भी हमारी सेना ने ऐयर अटैक बालकोट पर इसका बदला लेने का काम किया। पहली बार हमें ऐसा लगा कि हमारी कोई सरकार है। उन्होंने कहा कि ऐसे कईं उदाहरण मिलते हैं जिसमें हमारी सेना ने दुशमनों के घर में घुसकर उन्हें धूल चटाने का काम किया है। अब पाकिस्तान को पता है कि ईंट का जवाब पत्थर से मिलेगा। कुछ करने से पहले उसे कईं बार सोचना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि उस वक्त के शासकों ने अपरिहार्य कारणों से वहां पर धारा 370 लगाकर उनको विशेष दर्जा दिया। हमने शुरू से ही नारा दिया था एक देश में दो विधान, दो प्रधान नहीं चलेेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे देश में कशमीर हमारा अभिन्न अंग है। डा0 श्यामा प्रसाद मुखर्जी इस लड़ाई को लड़ते-लड़ते शहीद हो गये। उन्होंने कहा कि धारा 370 भारत के माथे पर कलंक था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सत्ता संभालते ही धारा 370 को मिटा दिया। भारत के माथे पर लगे इस कलंक को मिटा दिया। आज कशमीर भी वैसा ही प्रदेश है जैसे हरियाणा, हिमाचल, पंजाब, राजस्थान व अन्य राज्य हैं। आज सरकार की जो भी योजनाएं सारे देश में लागू होती हैं वही योजनाएं कशमीर में भी लागू होती हैं और इन योजनाओं का लाभ लोगों को मिल रहा है। इतना बड़ा काम करने वाला साहस रखने वाला यदि कोई व्यक्ति है वह नरेन्द्र मोदी है।

उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए कईं संघर्ष हुए, राम हमारे अराध्य हैं। उन्होंने कहा कि बाबर ने इस मंदिर को बनने नहीं दिया, जो मंदिर वहां था उसे भी तुड़वा दिया था। राम मंदिर के निर्माण के लिए संघर्ष हुए, लड़ाई लड़ी गई, आंदोलन हुए, मैं खुद दो बार अपने साथियों के साथ अयोध्या गया। पहली बार मैं लखनउ में गिरफ्तार हुआ और 19 दिन तक मुझे उन्नाव जेल में रहना पड़ा। दोबारा फिर से सारे हिंदुस्तान के लोग वहां इक्क_े हुए और बाबर का जो ढांचा था वह क्षतिग्रस्त हो गया, लेकिन फिर भी मंदिर बनाने का रास्ता अभी दूर था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सूझ-बूझ से वो रास्ता सफल हुआ और आज वहां पर भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बनकर तैयार हो रहा है।

गृहमंत्री ने इस मौके पर यह भी बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में जन कल्याण की अनेकों योजनाएं क्रियान्वित की गई है और खासतौर से आम आदमी के जीवन में सुधार लाया जा सके, ऐसी योजनाएं बनाई गई हैं। इन योजनाओं में प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत 31 करोड़ लोगों के खाते खोले गये हैं, लाभार्थियों को सीधा योजना का लाभ मिल रहा है। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत जरूरतमंद लोगों को रसोई गैस मुहैया करवाई गई हैं, गरीब की रसोई में उसे धुएं से मुक्ति मिली है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हर घर को पक्की छत मुहैया करवाने का काम किया जा रहा है। अनेकों अनगिनत ऐसे योजनाएं है जो गरीबों के लिए क्रियान्वित की गई हैं। यदि उनका अवलोकन करके परिणाम निकालें तो यही निकलता है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दिल में गरीब बस्ता है क्योंकि वो गरीब के दर्द को जानते हैं। उन्होंने कहा कि समय-समय पर केन्द्र सरकार द्वारा आर्थिक पैकेज भी दिया जा रहा है। इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने का काम किया जा रहा है। नित नये-नये कार्यक्रम किए जा रहे हैं। अभी हाल ही में इसी कड़ी में दिल्ली में 7 हजार सेना अधिकारियों व कर्मचारियों के बैठने के लिए सेना भवन का उदघाटन किया गया है। उन्होने कहा कि बेहतर वातावरण में सेना अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विपक्षी पार्टियों के विरोध के बावजूद ऐसे काम करके दिखाए हैं जोकि सराहनीय हैं।

उन्होंने इस मौके पर यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 71वें जन्मदिन के अवसर पर 71 किलो सूजी व शुद्ध देशी घी के साथ हलवा तैयार करने का काम किया गया है। लगभग 600 किलो हलवा सदर बाजार में वितरित करने का काम किया जा रहा है।

इस मौके पर मंडल प्रधान राजीव डिम्पल, किरण पाल चौहान, अजय पराशर, मीडिया कोर्डिनेटर विजेन्द्र चौहान, बीएस बिन्द्रा, संजीव वालिया, अजय बवेजा, दीपक भसीन, मदन लाल शर्मा, ललिता प्रसाद, कर्ण अग्रवाल, नीलम शर्मा, विजया गुप्ता, बलकेस वत्स, अभिकांत वत्स, राम बाबू यादव, रवि सहगल, आशीष तायल, सतपाल ढल, प्रेम सिंह राणा, ज्योति के साथ-साथ भाजपा पार्टी के अन्य पदाधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *