• Sat. May 28th, 2022

प्रदेश में घटते भूमिगत जल स्तर को देखते हुए सरकार द्वारा चलाई जा रही ’’मेरा पानी मेरी विरासत’’ स्कीम- एस0एम0एस0 (टी0 एण्ड आई0) डॉ0 उदयभान।

Byadmin

Jun 18, 2021


किसान टपका सिंचाई विधि अपना कर समय व पानी दोनों कि बचत करके फसल कि अच्छी पैदावार का लाभ करें प्राप्त – सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी डॉ0 दलबीर सिंह।
अम्बाला/नारायणगढ़/शहजादपुर, 18 जून।  
          कृषि एवं किसान कल्याण विभाग नारायणगढ़ द्वारा ब्लॉक शहजादपुर के गांव पंजेटों में घटते भू-जल व भू-जल स्तर को देखते हुए धान कि सीधी बिजाई को बढ़ावा देने के लिए किसान प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया। कैंप में एस0एम0एस0 (टी0 एण्ड आई0) अम्बाला डॉ0 उदयभान, सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी नारायणगढ़ डॉ0 दलबीर सिंह, एसिस्टैंट टक्निकल मैनेजर नमन कुमार व अकिंत बंसल एग्रीकलचर सूपरवाईजर, फिल्डमैन सतीश कुमार व फिल्डमैन प्रदीप कुमार शहजादपुर उपस्थित रहे।
एस0एम0एस0 (टी0 अण्ड आई0) अम्बाला डॉ0 उदयभान ने किसानों को   प्रदेश में घटते भूमिगत जल स्तर को देखते हुए सरकार द्वारा चलाई जा रही ’’मेरा पानी मेरी विरासत’’ स्कीम  बारे में बताया व किसानों को धान की सीधी बिजाई (डी0एस0आर0), के बारे में बताते हुए कहा की प्रदेश में बहुत से किसान धान उगाने की इस विधि का उपयोग करके कम लागत पर अधिक पैदावार प्राप्त करके लाभ प्राप्त कर रहें है। उन्होंने कहा कि पानी की कम खपत करके सरकार द्वारा चलाई गई पानी को बचाने की मुहीम में अपना योगदान दे रहें है।
         सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी, नारायणगढ़ डॉ0 दलबीर सिंह ने किसानों को बताया घटते भू-जल व भू-जल स्तर को देखते हुए सरकार द्वारा किसानों को खेतों में सिंचाई करने हेतु पाईप लाईन, टपका सिंचाई को बढ़ावा देते हुए पाईप लाईन पर अनुदान दिया जा रहा है।
             उन्होंने किसानों को बताते हुए कहा की प्रदेश के बहुत से किसान सिंचाई पाईप लाईन का उपयोग तो करते ही है लेकिन प्रदेश में कई जगहों पर पानी की कमी होने से किसान टपका सिंचाई विधि अपना रहें है जिससे कम पानी की खपत करके फसल की अच्छी पैदावार प्राप्त कर रहें है। उन्होंने  किसानों से टपका सिंचाई विधि अपनाने की अपील करते हुए कहा की टपका सिंचाई से समय व पानी दोनों कि बचत करके किसान फसल कि अच्छी पैदावार का लाभ प्राप्त करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.