• Wed. Jun 29th, 2022

पोक्सो अधिनियम 2020 के तहत एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

Byadmin

Dec 31, 2020

अम्बाला, 31 दिसम्बर:-
          महिला एंव बाल विकास विभाग द्वारा पोक्सो अधिनियम 2020 के तहत एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में 15 थानों से 2-2 नामांकित अधिकारियों द्वारा भाग लिया गया। जिसमें विस्तारपूर्वक जिला बाल सरंक्षण अधिकारी द्वारा पोक्सों 2012 तथा 2020 की पूर्ण जानकारी दी गई। कार्यशाला में सरंक्षण अधिकारी द्वारा गैर संस्थानिक देखभाल द्वारा संर्पोशिप स्कीम, अडोप्शन तथा बाल देखरेख संस्थानों बारे पूर्ण जानकारी दी गई। पोक्सो के नोडल अधिकारी द्वारा इस कार्यशाला का मुख्य उदेद्श्य पोक्सो के सभी केसों के पूर्ण डाटा का विश्लेषण किए जाने से था। कार्यशाला में बाल कल्याण समिति के सदस्यों द्वारा भी भाग लिया गया और वन स्टॉप सैन्टर बारे, बच्चों व महिलाओं से सम्बन्धित सभी स्कीमों बारे जानकारी दी गई है। इस कार्यशाला में कोविड-19 की हिदायतों के अनुसार मास्क, सैनेटाईजर सोशल डिस्टेन्सिंग का ध्यान रखा गया। 

494 thoughts on “पोक्सो अधिनियम 2020 के तहत एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।”
  1. I will right away grab your rss as I can not find your e-mail subscription link or newsletter service. Do you have any? Please permit me understand so that I may just subscribe. Thanks.

  2. Simply want to say your article is as amazing. The clarity in your post is just great and i can assume you’re an expert on this subject. Fine with your permission allow me to grab your feed to keep up to date with forthcoming post. Thanks a million and please keep up the gratifying work.

  3. Thanks for another great post. Where else may anybody get that type of info in such an ideal way of writing? I have a presentation next week, and I’m at the search for such information.

  4. Pretty nice post. I just stumbled upon your weblog and wanted to say that I’ve really enjoyed surfing around your blog posts. After all I’ll be subscribing in your feed and I am hoping you write again very soon!

  5. Nice read, I just passed this onto a friend who was doing a little research on that. And he actually bought me lunch as I found it for him smile So let me rephrase that: Thank you for lunch! “He who walks in another’s tracks leaves no footprints.” by Joan Brannon.

Leave a Reply

Your email address will not be published.