• Wed. Dec 1st, 2021

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा ऑनलाईन समारोह का किया गया आयोजन–विश्व शौचालय दिवस मनाकर गिनाई उपलब्धियां

Byadmin

Nov 19, 2020

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा ऑनलाईन समारोह का किया गया आयोजन–विश्व शौचालय दिवस मनाकर गिनाई उपलब्धियां:-केन्द्रीय सामाजिक न्याय अधिकारिता एवं जल शक्ति राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया।
अम्बाला, 19 नवंबर:-
 पेयजल और स्वच्छता विभाग, जल शक्ति मंत्रालय ने अशोक होटल, दिल्ली से आयोजित एक ऑनलाइन समारोह के माध्यम से विश्व शौचालय दिवस मनाया। भारत सरकार के खुले में शौच मुक्त अभियान के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मंत्रालय द्वारा संकलित लघु एनिमेटेड ओडीएफ प्लस फिल्म की स्क्रीनिंग के साथ समारोह शुरू हुआ। इस समारोह में मंत्री जल शक्ति गजेंद्र सिंह और केन्द्रीय सामाजिक न्याय अधिकारिता एवं जल शक्ति राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने भाग लिया। इस बारे में जारी प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया ने बताया कि समारोह में ओडीएफ प्लस गांवों के सरपंचों के साथ आभासी बातचीत शामिल थी। नामची-सिक्किम, रोहतक, हरियाणा, किन्नौर एचपी, देहरादून यूके, आदिलाबाद- तेलंगाना, मिर्जापुर यूपी, इंफाल मणिपुर, साबरकांठा गुजरात, दुर्ग छत्तीसगढ़ के संबंधित जिला मुख्यालयों से सरपंच शामिल हुए। उन्होंने अपनी सफलता की कहानियां साझा कीं। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण / ओडीएफ + के क्षेत्र में उत्कृष्ट उपलब्धि के लिए जिलों / जिला पंचायतों को पुरस्कार प्रदान किए गए। पुरस्कार पाने वालों के नाम हैं।
पश्चिम गोदावरी, एपी, पूर्वी गोदावरी, एपी, कांकेर जिला पंचायत छत्तीसगढ़, जिला पंचायत बेमेतरा, छत्तीसगढ़, वडोदरा, गुजरात, राजकोट, गुजरात, भिवानी, हरियाणा, रेवाड़ी, हरियाणा, एर्नाकुलम, केरल, वायनाड, केरल, कोल्हापुर, महाराष्ट्र, नासिक, महाराष्ट्र, कोलासिब, मिजोरम, सेरशिप, मिज़ोरम, मोगा, पंजाब, फतेहगढ़ साहिब, पंजाब, सिद्दीपेट, तेलंगाना, पेद्दापल्ली, तेलंगाना, कूच बिहार, पश्चिम बंगाल शामिल हैं।
राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया ने अपने संबोधन में कहा कि वर्ष 2014 में शुरू किए गए स्वच्छ भारत अभियान के परिणाम सराहनीय रहे। उन्होंने बताया कि यह बहुत ही गर्व की बात है कि 5 वर्षों में, इस देश के लोगों ने एक उपलब्धि हासिल की, जो नहीं हो सका सभी वर्षों के लिए एक साथ प्राप्त किया जा सकता है, अर्थात्, हमारे समाज को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए। उन्होंने इस उपलब्धि का श्रेय सार्वजनिक जागरूकता, भागीदारी, राजनीतिक इच्छाशक्ति और अंतत: माननीय पीएम नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी और गतिशील नेतृत्व को दिया। उन्होंने स्वछता को हमारे समाज में व्यापक रूप से चर्चा का विषय बनाने के लिए पीएम को श्रेय दिया। परिणामस्वरूप, शौचालयों सहित, स्वछता, शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों के लोगों के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता बन गई।
  कटारिया ने यह भी स्वीकार किया कि भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए सार्वजनिक अभियान की सफलता को उजागर करते हुए फिल्म उद्योग द्वारा शौचालय, शौचालय जैसे मुद्दों को कवर किया गया है लेकिन अंतत: इस देश के लोगों द्वारा आगे बढ़ाया गया है। अंत में, उन्होंने पुरस्कार के सभी विजेताओं को उनकी कड़ी मेहनत के लिए बधाई दी और सभी ग्राम पंचायतों को जल्द से जल्द ओडीएफ + का दर्जा प्राप्त करने की दिशा में निरंतर प्रयास करने के लिए प्रोत्साहित किया।

One thought on “पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा ऑनलाईन समारोह का किया गया आयोजन–विश्व शौचालय दिवस मनाकर गिनाई उपलब्धियां”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed