• Sun. Oct 17th, 2021

पल्स पोलियो अभियान 20 सितम्बर को केवल हाई रिस्क एरिया मेें होना निश्चित हुआ हैं।

Byadmin

Sep 17, 2020

सिविल सर्जन डॉ कुलदीप सिंह ने बताया कि पल्स पोलियो अभियान 20 सितम्बर को केवल हाई रिस्क एरिया मेें होना निश्चित हुआ हैं। उन्होंने कहा कि आज हम गर्व से कह सकते हैं कि भारत देश पोलियो मुक्त हैं। लेकिन पड़ोसी देश जैसे की पाकिस्तान व अफगानिस्तान अभी भी पोलियों से संक्रमित हैं। जिस वजह से हमें और ज्यादा सावधान रहना हैं। जिला अम्बाला में बच्चों को पोलियो मुक्त रखने के लिए नियमित टीकाकरण में जिला 98.6 प्रतिशत की उपलब्धि प्राप्त किए हुए हैं तथा पल्स पोलियों अभियान की दौरान शत प्रतिशत कवरेज की जाती हैं। उन्होंने बताया कि इस अभियान को सफल बनाने हेतू प्रशासन के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। जिसमें पोलियो वैक्सिन, प्रचार-प्रसार व अन्य सामग्री सभी स्वास्थ्य केन्द्रों/ पोलियों बूथों पर भेजी जा रही हैं।
सिविल सर्जन डॉ कुलदीप सिंह ने बताया कि वैश्विक महामारी कोविड को देखते हुए व आवश्यक  सावधानी बरतते हुए जन्म से पांच साल तक के 13640 बच्चों को दो बूंद पोलियों की पिलाई जाएगी। पोलियों अभियान 20 से 22 सितम्बर तक केवल हाई रिस्क एरिया में ही होना निश्चित हुआ हैं। पल्स पोलियों अभियान में सभी विभागों के सहयोग से हम पोलियो रोग पर काबू पा सकें है सभी के लगातार प्रयास से जनवरी 2011  के बाद पूरे भारत में कोई भी पोलियो केस नहीं निकला। इसी प्रकार की कामयाबी जारी रखते हुए 20 सितम्बर को केवल जिला के ओद्यौगिक क्षेत्र, निर्माणाधीन स्थल, झुगियों में रह रहें कामगार मजदूरों व अन्य वासियों के बच्चों को हाई रिस्क एरियास घोषित कर विशेष टीमें लगाई गई हैं, ताकि कोई भी बच्चा पोलियों की खुराक से वंचित न रहें।
उपसिविल सर्जन डॉ बेला शर्मा ने बताया कि इस बार पोलियो अभियान में बच्चो को पोलियो की दवाई पिलाते समय पूरी सावधानी बरती जाएगी। कोई भी पोलियो टीम बच्चों को खुद स्पर्श न करें बल्कि बच्चे का मुंह खुलावाने के लिए परिजन की मदद लें। इस दौरान सभी टीम के सदस्यों को मास्क पहनकर व शारीरिक दूरी बनाकर रखना होगा, इसके अलावा हाथों को बार-बार सैनिटाईजर करना होगा। जिले में पोलियो अभियान को प्रभावी ढंग से सफल बनाने हेतू 17 मोबाईल टीम, 646 स्वास्थ्य कार्यकत्र्ता, 40 सुपरवाईजर व कार्यक्रम अधिकारी की भी डयूटी लगाई गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *