• Sat. Oct 16th, 2021

पंचकूला में स्थापित किया जा रहा है, राज्य का पहला स्पोर्टस इंजरी रिहेबिलिटेशन सेंटर- संदीप सिंह

Byadmin

Sep 11, 2021


 पैरा ओलम्पिक खिलाड़ियों का सम्मान समारोह 19 सितंबर को गुरुग्राम में

 गुजरात खेल विभाग के प्रतिनिधिमंडल ने की हरियाणा की प्रशंसा

चण्डीगढ़, 11 सितंबर – हरियाणा के खेल एवं युवा मामले राज्यमंत्री श्री संदीप सिंह ने कहा कि राज्य का पहला स्पोर्टस इंजरी रिहेबलिटेशन सेंटर पंचकूला सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवी लाल खेल स्टेडियम में स्थापित किया जा रहा है जोकि फरवरी 2022 में आयोजित होने वाले खेलो इंडिया गेम्स से पहले बनकर तैयार हो जाएगा। इस सेंटर के स्थापित होने से खेलों के दौरान चोटिल होने वाले खिलाड़ियों को शीघ्र उभरने में मदद मिलेगी।

उन्होंने यह बात आज ताऊ देवी लाल खेल स्टेडियम में गुजरात खेल विभाग के एक प्रतिनिधि मंडल के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता के दौरान कही। गुजरात का प्रतिनिधि मंडल राज्य में खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध स्पोर्टस इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ-साथ प्रशिक्षण, डाईट व खेल नीति आदि का अध्ययन करने के लिए हरियाणा दौरे पर है।

इस अवसर पर खेल विभाग के निदेशक श्री पंकज नैन, पूर्व भारतीय हाॅकी कप्तान श्री सरदार सिंह, पूर्व भारतीय वालीवाॅल कप्तान श्री अमिर सिंह व वालीवाॅल पूर्व कोच श्री ओमप्रकाश भी उपस्थित थे।

 प्रदेश में चार नए स्पोर्टस इंजरी रिहेबिलिटेशन सेंटर खोले जायेंगे

श्री संदीप सिंह ने कहा कि प्रदेश में चार नए स्पोर्टस इंजरी रिहेबिलिटेशन सेंटर खोले जाने हैं । इंजरी खेलों का एक हिस्सा हैं परंतु चोट की वजह से कुछ खिलाड़ी अपने खेल को जारी नहीं रख पाते और कुछ खिलाड़ियों को तो चोट का ईलाज करवाने के लिए दूसरे देशों में भी जाना पड़ता है। इस सेंटर के स्थापित होने से खिलाड़ी राज्य में ही चोट से उभर सकेंगे।

 200 नए कोचो की शीघ्र की जायेगी भर्ती

खेल राज्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में खिलाड़ियों को उच्च स्तर का  प्रशिक्षण दिया जा रहा है ताकि वे विभिन्न खेल प्रतिस्पर्धाओं में बेहतरीन प्रदर्शन कर देश व प्रदेश का नाम रोशन कर सकें । उन्होंने बताया कि वर्तमान में प्रदेश में विभिन्न खेलों के 533 कोच हैं तथा 200 नए कोचो की भर्ती शीघ्र ही की जायेगी। इसके अलावा शुरू से ही बच्चों में खेलों के प्रति रूचि बढ़ाने के लिए प्रदेशभर में लगभग 1000 स्पोर्टस नर्सरी खोली जा रही हैं ।

 बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर व खेल नीति के साथ-साथ खिलाड़ियों को मैदान तक लेकर आना सबसे अहम

गुजरात से आए प्रतिनिधि मंडल से बातचीत करते हुए श्री संदीप सिंह ने कहा कि खेलो में बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर व खेल नीति के साथ-साथ खिलाड़ियों को मैदान तक लेकर आना सबसे अहम है। हरियाणा खेल विभाग द्वारा इस दिशा में विशेष प्रयास किए गए है, जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे है। उन्होंने कहा कि इसका श्रेय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को जात है जो सदैव खेल व खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिये तत्पर रहते हैं। विभाग द्वारा खेल व खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए कोई भी प्रस्ताव मुख्यमंत्री के समक्ष आता है तो वह उसे तुरंत अपनी स्वीकृति प्रदान करते है।

 हरियाणा दौरे से गुजरात में बेहतर स्पोर्टस कल्चर विकसित करने में सहायता मिलेगी

इस अवसर पर गुजरात के प्रतिनिधि मंडल ने गुजरात स्पोर्टस आॅथोरिटी की ओर से हरियाणा सरकार का आभार  व्यक्त किया। उन्होनंे कहा कि अपने हरियाणा दौरे के दौरान प्रतिनिधिमंडल ने गुरुग्राम से लेकर पंचकूला तक खेलों के साथ-साथ खिलाड़ियों को दी जा रही प्रशिक्षण व अन्य सुविधाओं के बारे में बारिकी से जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि इस अध्ययन से गुजरात में बेहतर स्पोर्टस कल्चर विकसित करने में सहायता मिलेगी।

 हरियाणा के खिलाड़ियों ने ओलंपिक्स में मैडल जीतकर देश का नाम पूरे विश्व में किया रोशन

 प्रतिनिधिमंडल ने हरियाणा की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रदेश के खिलाड़ियों ने ओलंपिक्स में मैडल जीतकर देश का नाम पूरे विश्व में रोशन किया हैं। उन्होंने कहा कि आज दूसरे प्रदेश भी हरियाणा के प्रदर्शन से सीख ले रहे है और इसी कडी में गुजरात का एक प्रतिनिधि मंडल हरियाणा के दौरे पर आया है। प्रतिनिधि मंडल के सदस्यो ंने आशा व्यक्त की कि हरियाणा की बेस्ट स्पोर्टस प्रैक्टिस का अपनाकर गुजरात भी खेलों में देश का नाम रोशन करेगा।

इस अवसर पर खेल विभाग की उपनिदेशक कविता देवी, जिला खेल अधिकारी पंचकूला राजेंद्र गुप्ता, जिला खेल अधिकारी सोनीपत ज्योति रानी, कोचिज व गुजरात प्रतिनिधि मंडल के सदस्य मनीष झिलाडिया, निमेश पटेल, रमेश ओला, मगेंद्र तोमर, कांजी भालिया, संजय यादव, विश्वा धीमान, पुनम फुमाकिया, बलविंद्र कौर, उपासना रंडेरिया तथा उषा चैधरी उपस्थित थे।

3 thoughts on “पंचकूला में स्थापित किया जा रहा है, राज्य का पहला स्पोर्टस इंजरी रिहेबिलिटेशन सेंटर- संदीप सिंह”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *