• Sat. Oct 16th, 2021

नया परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए नजदीकी सीएससी से करें सम्पर्क।

Byadmin

Oct 30, 2020


अम्बाला, 30 अक्तूबर:- अतिरिक्त उपायुक्त अम्बाला प्रीति ने अम्बाला जिला के सभी नागरिकों से अनुरोध किया है कि अपने परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) में कोई अपडेट व नया परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) बनवाने के लिए अपने नजदीकी सीएससी में जाकर निशुल्क करवाएं। आईडी बनाने एवं अपडेशन उपरांत जो फार्म दिया जाता है उस पर अपने हस्ताक्षर अवश्यक करें व सीएससी, वीएलई को प्रस्तुत करें।
उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र का प्राथमिक उद्देश्य हरियाणा में सभी परिवारों का प्रमाणित, सत्यापित और विश्वसनीय डाटा तैयार करना है। पीपीपी हरियाणा में प्रत्येक परिवार की पहचान करता है और परिवार के बुनियादी डाटा को डिजीटल प्रारूप में परिवार की सहमति से प्रदान करता है। प्रत्येक परिवार को 8 अंको का परिवार आईडी प्रदान किया जा रहा है। फैमिली डाटा के आटोमैटिक अपडेशन को सुनिश्चित करने के लिए फैमिली आईडी को बर्थ और डैथ व मैरिज रिकार्ड से जोड़ा जायेगा। उन्होंने बताया कि वृद्धावस्था, विधवा और दिव्यांग पैंशन के लिए अब परिवार पहचान पत्र का होना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके अलावा फैमिली आईडी छात्रवृति, सबसीडी और अन्य पैंशन जैसी सभी मौजूदा स्वतंत्र योजनाओं को जोड़ेगी ताकि स्थिरता और विश्वसनीयता सुनिश्चित हो सके तथा साथ ही विभिन्न योजनाओं, सबसीडी और पैंशन के लाभार्थियों के स्वत: चयन को सक्षम किया जा सके।
अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि सभी डिपू धारकों को भी निर्देश दिये हैं कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत लाभ प्राप्त करने वाले सभी लाभार्थियों व उनके परिवार के सदस्यों के आधार कार्ड की फोटोप्रति राशन वितरण के समय एकत्रित की जाये। सभी डिपू धारक इन आधार कार्ड की फोटोप्रतियों को सीएससी सेंटर संचालक को उपलब्ध करवाएं ताकि उन सभी के परिवार पहचान पत्र बनवाए जा सकें। उन्होंने यह भी बताया कि जो भी युवा, जिसके पास अपना कम्पयूटर है, वे अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय में अपना ऑप्रेटर रजिस्टे्रशन परिवार पहचान पत्र बनाने के लिये करवा सकते हैं। इसके माध्यम से वे परिवार पहचान पत्र बनाकर रोजगार भी प्राप्त कर सकते हैं।

74 thoughts on “नया परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए नजदीकी सीएससी से करें सम्पर्क।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *