• Sat. May 28th, 2022

डी.सी. ने पोलिक्लीनिक में बनाये गये वैक्सीनेशन सेंटर की व्यवस्थाओं का लिया जायजा।

Byadmin

Jun 10, 2021


अम्बाला 10 जून:-
 उपायुक्त विक्रम सिंह ने वीरवार राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अम्बाला शहर में स्थापित वैक्सीनेशन सैंटर व सैक्टर 10 स्थित पोली क्लीनिक बनाये गये वैक्सीनेशन सैंटर में व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने वैक्सीनेशन करवाने आए लोगों से भी बातचीत की तथा पूछा कि वैक्सीनेशन करवाने में उन्हें कोई दिक्कत तो नहीं आ रही। जिला प्रशासन द्वारा यहां पर वैक्सीनेशन संबधी की गई व्यवस्थाओं की लोगों ने सराहना की।
उपायुक्त विक्रम सिंह ने सबसे पहले आईटीआई अम्बाला शहर में वैक्सीनेशन सैंटर का दौरा किया। मौके पर उपस्थित सीएमओ डा0 कुलदीप सिंह से उन्होंने यहां पर वैक्सीनेशन संबधी किए जा रहे कार्यों एवं व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि यहां पर 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए अलग से वैक्सीनेशन प्रक्रिया का कार्य किया जा रहा है। इसी प्रकार 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए अलग से वैक्सीनेशन की जा रही है। परिसर में ही स्थित दोनों सैंटरों पर बेहतर व्यवस्था के साथ टीकारण की प्रक्रिया को किया जा रहा है। लोग भी वैक्सीनेशन प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।
उपायुक्त ने इस मौके पर सिविल सर्जन को कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जो ऐप तैयार किया गया है उस पर वे जिन सैंटरों पर वैक्सीनेशन किया जा रहा है वहां पर कौन सी वैक्सीन लगेगी, इस बारे भी वह ऐप पर जानकारी डालें ताकि लोगों को पता चल सके कि किस सैंटर पर कौन सी वैक्सीन लगाई जायेगी। ऐसा होने से लोगों को वैक्सीनेशन करवाने में भी सुगमता मिलेगी। उन्होंने निरीक्षण के दौरान वैक्सीनेशन संबधी सारी प्रक्रिया की जानकारी ली वहीं वैक्सीनेशन करवाने आए शहर निवासी प्रीतम सिंह व एकनुर से वैक्सीनेशन के बारे में जाना। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन का कार्य यहां पर बेहतर किया जा रहा है। उपस्थित स्टाफ द्वारा तमाम प्रक्रिया के बारे में उन्हें जानकारी दी जा रही है। इसके लिए भी जिला प्रशाासन का आभार व्यक्त करते हैं। उपायुक्त ने भी यहां पर वैक्सीनेशन के लिए किए गये प्रबंधों की सराहना की और डाक्टरों को इसी उत्साहवर्धन के साथ अपने कार्य को इसी प्रकार करने के लिए प्रोत्साहित किया।
सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह ने उपायुक्त को अवगत करवाते हुए बताया कि यहां पर वैक्सीनेशन का कार्य सुचारू रूप से किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि जिन लोगों ने वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया होता है और उनका स्लॉट बुक नहीं हो पाता, ऐसे लोगों के लिए यहां पर टोकन की व्यवस्था की गई है। पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर सैंटर पर उपलब्ध वैक्सीनेशन के मुताबिक लोगों को टोकन वितरित करने का काम किया जाता है और उन्हें वैक्सीनेट करने का काम किया जाता है।
इस मौके पर उपायुक्त ने राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्रांगण में पौधारोपण भी किया और कहा कि पर्यावरण को स्व‘छ व सुंदर बनाने के लिए हमें अधिक से अधिक पौधे लगाने चाहिए। जहां पौधों को लगाना है वहीं उनका रख-रखाव करते हुए उन्हें पेड़ बनाने का काम भी करना है। उन्होंने कहा कि यही पौधे पेड़ बनकर हमें ऑक्सीजन देने का काम करते हैं। जितने ’यादा से ’यादा पेड़ लगेंगे, धरती उतनी ही हरी-भरी रहेगी। इस अवसर पर सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह, डा0 संगीता गोयल व आईटीआई के प्रिंसीपल भूपेन्द्र सांगवान ने भी पौधारोपण किया।
इसके उपरांत उपायुक्त ने सैक्टर 10 स्थित पोली क्लीनिक में भी जाकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह से जहां टीकाकरण की प्रक्रियाओं के बारे में जानकारी ली वहीं सैंपलिंग के साथ-साथ जिला आणविक प्रयोगशाला व म्यूकोर्मिकोसिस (ब्लैक फंगस) का टैस्ट कर रही लैब का भी जायजा लिया। उन्होंने यहां पर भी वैक्सीनेट करवाने आए लोगों से भी बातचीत की। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के कार्य में हमें लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाते हुए उन्हें वैक्सीनेशन करवाने के लिए प्रेरित करना है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए टीकाकरण अत्यंत महत्वपूर्ण है। इस मौके पर सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह, डा0 अदिति, डा0 संगीता गोयल, डा0 सुखप्रीत, डा0 राजेन्द्र राय के साथ-साथ अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed