• Mon. Jun 27th, 2022

डीसी ने ली डिस्ट्रीक लैवल क्लीयरैंस कमेटी की बैठक–सम्बन्धित अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश।

Byadmin

Jul 9, 2021

अम्बाला, 9 जुलाई:- उपायुक्त विक्रम सिंह ने आज अपने कार्यालय में डिस्ट्रीक लैवल क्लीयरैंस कमेटी की एक बैठक लेेते हुए उद्योगों से सम्बन्धित जिन विभागों द्वारा जो कार्य किया जाना है व मोबाईल टावर विषय को लेकर भी जो आवश्यक कार्य किए जाने हैं उन्हें भी निर्धारित मापदंडो के तहत समय अवधि के तहत पूरा करें। सम्बन्धित को नोटिस भी दें, यदि समय अवधि पूरी हो जाती है तो उस कार्य को रिजैक्ट करना सुनिश्चित करें।
उपायुक्त ने डिस्ट्रीक लैवल क्लीयरैंस कमेटी की बैठक लेते हुए सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों के साथ एंजैडे में रखे बिंदुओं बारे विस्तार से चर्चा की और किस विभाग के पास क्या-क्या कार्य लम्बित हैं और किस कारण से पड़ा है उस बारे जानकारी ली। उन्होंने कहा कि उद्योगों से सम्बन्धित यदि किसी व्यक्ति ने जैसे बिजली कनैक्शन के लिए, डीटीपी कार्यालय में यूएलबी के लिए या प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से लाईसैंस लेने के लिए या अन्य किसी विभाग से पत्राचार किया हुआ है तो सम्बन्धित विभाग के अधिकारी उस कार्य को निर्धारित मापदंडों के तहत तुरंत करना सुनिश्चित करें, इस कार्य में टाईम लाईन का विशेष ध्यान रखा जाए, किसी भी विभाग के पास यदि कोई आवेदन आता है तो दो दिन के अंदर आवेदन संबधी दस्तावेज को चैकआउट करें, यदि आवेदन से सम्बन्धित दस्तावेज ठीक हैं तो उसे आगामी कार्रवाई के लिए प्रस्तुत करें।
उन्होंने अधिकारियों को कहा कि जो भी आवेदन डीएलसीसी पोर्टल के माध्यम से प्राप्त होते हैं, उन पर समय अवधि के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट किया कि सम्बन्धित आवेदन के लिए जो भी निर्धारित मापदंड है यानि 45 दिन तक सम्बन्धित ने यदि आवेदन संबधी औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं तो उसे आगामी कार्रवाई के लिए प्रस्तुत करें अन्यथा उसे रिजैक्ट करें। निर्धारित नियमों के तहत इस कार्य के लिए सम्बन्धित व्यक्ति को समय अवधि के तहत नोटिस भी दें।
मोबाईल टावर विषय को लेकर भी उन्होंने बैठक में विस्तार से समीक्षा की। इस विषय को लेकर जिन विभागों द्वारा कार्य किए जाने है उसे वे करना सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने मोबाईल टावर प्रतिनिधियों को भी कहा कि वे जहां पर भी मोबाईल टावर के लिए प्रपोजल तैयार करते हैं वहां इस बात का ध्यान रखें कि उससे किसी को परेशानी न हो। अक्सर मोबाईल टावर की शिकायत रहती है कि वह ऐसी जगह लग गया है कि उससे लोगों को परेशानी होती है, ऐसा न हो, इन सभी बातों का ध्यान रखें। उन्होंने बैठक में सम्बन्धित अधिकारियों से इन विषयों को लेकर कोई समस्या तो नहीं है उस बारे भी जानकारी ली। इस विषय के तहत डिस्ट्रीक लैवल ग्रिवैंसिग मीटिंग (औद्योगिक) के तहत यदि कोई समस्या है तो अगले सप्ताह एडीसी की अध्यक्षता में बैठक कर इन समस्याओं का निवारण करवाएं।
बैठक में हुडा से सम्पदा अधिकारी अशोक शर्मा, डीडीपीओ रेणू जैन, डीएमसी अरूण भार्गव, जिला उद्योग केन्द्र के संयुक्त निदेशक अनिल कुमार, कार्यकारी अभियंता निशांत, सुखबीर सिंह, रणवीर त्यागी, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से क्षेत्रीय प्रबंधक नितिन मेहता, डीआईओ विनय गुलाटी के साथ-साथ अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे। डीसी फोटो–1
राईट टू सर्विस से सम्बन्धित फलैक्स बोर्ड भी कार्यालयों में लगवाना करें सुनिश्चित।  
बॉक्स:- उपायुक्त ने बैठक में यह भी कहा कि राईट टू सर्विस से सम्बन्धित फलैक्स बोर्ड भी कार्यालयों में लगवाना सुनिश्चित करें ताकि कार्यालय में आने वाले लोगों को इस विषय से सम्बन्धित जानकारी मिल सके।
समाचार विद फोटो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.