• Thu. Jan 27th, 2022

जीवन जीने की कला सीखाती है श्रीमद भगवद् गीता- मंडलायुक्त।  

Byadmin

Dec 14, 2021

जीवन जीने की कला सीखाती है श्रीमद भगवद् गीता- मंडलायुक्त।  
शोभायात्रा से गीतामयी नजर आया पूरा शहर
अम्बाला, 14 दिसम्बर:-
 मंडलायुक्त रेणू एस फूलिया ने कहा कि गीता व्यक्ति को जीवन जीने की कला सिखाती है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति के जन्म से लेकर मृत्यु तक हर क्षेत्र में अलग-अलग चुनौतियां आती है और गीता में बड़ी से बड़ी चुनौती का सहजता से समाधान निकालने का मार्ग दिखाया गया है।
मंडलायुक्त ने आज रामबाग मैदान से जिला स्तरीय गीता जयंती महोत्सव के उपलक्ष में निकाली गई भव्य गीता पालकी शोभायात्रा को रवाना करने से पूर्व प्रतिभागियों को सम्बोधित कर रही थी। इस शोभायात्रा में जीयो गीता सहित विभिन्न विभागों, विभिन्न धार्मिक और सामाजिक संस्थाओं द्वारा विभिन्न झांकिया तैयार की गई। रामबाग मैदान अम्बाला शहर से आरम्भ हुई यह शोभायात्रा शांति देवी धर्मशाला, बस्ती राम बाजार, सर्राफा बाजार, कोतवाली बाजार, तंदूरा बाजार पुरानी अनाज मंडी, पुरानी सब्जी मंडी, जगाधरी गेट से होते हुए रामबाग मैदान पर सम्पन्न हुई।
शोभायात्रा शहर के विभिन्न बाजारों, चौक-चौराहों से गुजरी। शोभायात्रा का लोगों ने तहे दिल से स्वागत किया। शोभायात्रा में सरकारी विभागों के अलावा विभिन्न संस्थाओं व स्कूलों की झांकियां शामिल थी। यह झांकियां जहां गीता का संदेश दे रही थी वहीं स्वच्छता का संदेश भी दे रही थी। शोभायात्रा जहां से भी गुजरी वहां का वातावरण धार्मिक एवं गीतामय हो गया। शोभायात्रा में स्कूली विद्यार्थी संस्कृत में गीता के श्लोकों का उच्चारण कर रहे थे।
शोभायात्रा में श्री कृष्ण कृपा सेवा समिति, श्री कृष्णा गौ सेवा सोसायटी अम्बाला, स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड वैक्सीनेशन पर, नगर निगम द्वारा प्रधानमंत्री आवास शहरी योजना, दीन दयाल, अंतोदय, राष्ट्रीय शहरी आजिविका मिशन, दुर्गा सीनरी आर्ट ग्रुप मेरठ, सैक्टर 10 माता वैष्णो देवी मंदिर, देशभक्ति पर आधारित झांकी मां तुझे सलाम की झांकियों के अलावा अन्य संस्थाओं की झांकियांं शामिल थी। झांकियों पर भगवान कृष्ण, अर्जुन की वेशभूषा में सजे कलाकार तथा राधा-कृष्ण की झांकी तथा अभिमन्यू वध का दृश्य हर देखने वाले को अपनी ओर आकर्षित कर रही थी। शोभायात्रा में गीता जी का रथ जिसमें श्रीमदभगवदगीता विराजमान थे।
इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त सचिन गुप्ता, सीईओ जिला परिषद जगदीप ढांडा,आरटीए  गौरी मिड्डा, इस्टेट ऑफिसर अशोक कुमार, डीआईपीआरओ धर्मेन्द्र कुमार, डीडीपीओ रेणू जैन, जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश कुमार, श्री कृष्ण कृपा सेवा समिति अम्बाला से दिनेश ग्रोवर, रविन्द्र चोपड़ा, श्री कृष्ण गउ सेवा सोसायटी के प्रधान मोनू चावला सहित अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधि और विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा अन्य लोग मौजूद रहे।

3 thoughts on “जीवन जीने की कला सीखाती है श्रीमद भगवद् गीता- मंडलायुक्त।  ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *