• Sat. Aug 20th, 2022

जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांग जनों के यूडीआईडी कार्ड व निराश्रित, बेसहारा बाल श्रम जैसी परिस्थितियों में रह रहे बच्चों के आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र, आयुष्मान कार्ड, निवास प्रमाण पत्र इत्यादि बनाने के लिए शिविर होगा आयोजित।

Byadmin

Jul 11, 2022

जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांग जनों के यूडीआईडी कार्ड व निराश्रित, बेसहारा बाल श्रम जैसी परिस्थितियों में रह रहे बच्चों के आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र, आयुष्मान कार्ड, निवास प्रमाण पत्र इत्यादि बनाने के लिए शिविर होगा आयोजित।
राजकीय महाविद्यालय नारायणगढ़ के आडिटोरियम हॉल में 13 जुलाई से 15 जुलाई तक शिविर आयोजित किया जाएगा-एसडीएम सलोनी शर्मा।
 नारायणगढ़/अम्बाला, 11 जुलाई    जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांग जनों के यूडीआईडी कार्ड व निराश्रित, बेसहारा, बाल श्रम जैसी परिस्थितियों में रह रहे बच्चों के आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र, आयुष्मान कार्ड, निवास प्रमाण पत्र इत्यादि बनाए जाएंगे। इसके लिए राजकीय महाविद्यालय नारायणगढ़ के आडिटोरियम हॉल में 13 जुलाई से 15 जुलाई तक प्रात: 9 बजे से सांय 5 बजे तक 3 दिवसीय शिविर आयोजित किया जाएगा। जिसमें सभी विभाग एक ही जगह मौजूद रहेंगे। इस बारे में एसडीएम सलोनी शर्मा ने की अध्यक्षता में आज लघु सचिवालय के कान्फ्रेंस हॉल में एक बैठक हुई। जिसमें विभिन्न विभागों के अधिकारी और समाजसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधी मौजूद रहे।
               एसडीएम ने कहा कि भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना अनुसार भारत के सभी दिव्यांगजनों को विशेष पहचान पत्र यूडीआईडी कार्ड दिया जाएगा। इसी प्रकार जो बच्चे निराश्रित, बेसहारा, बाल श्रम जैसी परिस्थितियों में रह रहे ऐसे बच्चों के आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र, आयुष्मान कार्ड, निवास प्रमाण पत्र इत्यादि बनाए जाएंगे। जिसके लिए तीन द्विसीय इस विशेष कैम्प का आयोजन किया जा रहा है। जिससे कि ये बच्चे भी मुख्य धारा में आ सकें और सरकार की योजनाओं का इन्हें लाभ मिल पाए।
                उन्होंने कहा कि शिविर को लगाए जाने का मुख्य उद्देश्य यह भी है कि शिविर में ही मैडिकल बोर्ड द्वारा दिव्यांगजनों की दिव्यांगता सम्बंधी जांच की जाएगी। इसी प्रकार जो स्ट्रीट चिल्ड्रन हैं, ऐसे सभी बच्चों के आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र या उनसे सम्बन्धित जो कार्य है उन्हें किया जा सके । उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि शिविर में जो भी पात्र दिव्यांगजन या बच्चे पंहुचे, उनका कार्य निर्धारित मापदंडों के अन्तर्गत होना सुनिश्चित हो। उन्होंने यह भी कहा कि दिव्यांगजनों के लिये यूडीआईडी कार्ड बनाया जाना बेहद जरूरी है इसलिये सभी दिव्यांगजन अपना यूडीआईडी कार्ड बनवाना सुनिश्चित करें। उन्होने संस्थाओं, नवनिर्वाचित नगरपालिका सदस्यों, निवर्तमान ग्राम पंचायत सदस्यों, नम्बरदारों/पटवारी, आंगनवाड़ी वर्कर सहित आम जन से भी अनुरोध किया है कि यदि उनके आस-पास के क्षेत्र में ऐसे दिव्यांगजन या उपरोक्त श्रेणी के बच्चे है तो उन्हें इस शिविर के बारे में जानकारी देकर उन्हें लाने में सहयोग करें ।
बैठक में तहसीलदार दिनेश ढिल्लो, जिला बाल संरक्षण अधिकारी ममता रानी, बीडीपीओं संजय टांक, एसएमओं डॉ. संजीव सिद्धु, जिला समाज कल्याण विभाग से तरसेम, सीडीपीओ मिक्षा रंगा, रैड क्रास सोसायटी से मनोज सैनी, शिक्षा विभाग से प्रिंसीपल योगराज शर्मा व प्रवीण कुमार, श्रम विभाग से अवतार सिंह, भारत विकास परिषद से भूपेन्द्र कपूर, अग्रवाल सभा से सुनील अग्रवाल, नेता जी कल्ब से राकेश अग्रवाल, जिला युवा शक्ति संगठन सोहन लाल, राधा कृष्ण बाल आश्रम के काउंसलर ललित अरोड़ा तथा महऋषि कश्यप नौजवान सभा से चेतन कुमार व विकास सहित अन्य अधिकारी व संस्थाओं के प्रतिनिधी मौजूद रहे।  

2 thoughts on “जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांग जनों के यूडीआईडी कार्ड व निराश्रित, बेसहारा बाल श्रम जैसी परिस्थितियों में रह रहे बच्चों के आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र, आयुष्मान कार्ड, निवास प्रमाण पत्र इत्यादि बनाने के लिए शिविर होगा आयोजित।”
  1. Hello to every body, it’s my first pay a quick visit of this website; this website carries amazing and actually fine
    information designed for readers.

Leave a Reply

Your email address will not be published.