• Tue. Aug 16th, 2022

जिला परिषद चुनाव प्रत्याशी खर्च कर सकेगा 5 .50 लाख, सरपंच 1.65 लाख रुपये

Byadmin

Jan 19, 2021



जनवरी, 2016 में  पिछले चुनावो के बाद दूसरी बार की गयी  बढ़ोतरी  – हेमंत

 चंडीगढ़ – हरियाणा में आगामी कुछ सप्ताह में  घोषित  होने वाले  पंचायती राज संस्थाओ के छठे आम चुनावों में  उम्मीदवारों
द्वारा   अपने  प्रचार-प्रसार आदि करने  पर  होने वाले व्यय (खर्चे  )  की सीमा को हाल ही में  हरियाणा  राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी एक नोटिफिकेशन से  बढ़ा  दिया गया  है. शहर निवासी हाई कोर्ट के एडवोकेट हेमंत कुमार ने इस सम्बन्ध में आधिकारिक जानकारी एकत्रित कर बताया कि हरियाणा में पंचायती राज संस्थाओ के  पिछले आम चुनाव तीन चरणों में जुलाई, 2016 में करवाए गए थे. उन चुनावो के बाद पहले मई, 2017 में  उम्मीदवारों के खर्चे की सीमा बढ़ाई गयी जिसमें गत वर्ष फिर कुछ बढ़ोतरी की गयी है. जून, 2015 में  आयोग द्वारा  ग्राम पंचायत में  पंच  के लिए अधिकतम खर्च की सीमा 10 हज़ार रुपये निर्धारित की  गयी थी जिसे मई, 2017 में बढाकर अधिकतम 25 हज़ार रुपये किया गया था, उसे  अब आगामी चुनावो में  बढाकर अधिकतम 27 हज़ार 500 रुपये कर दिया गया है. जून, 2015 में   15 वार्डो तक की ग्राम पंचायत में  सरपंच के पद के  लिए अधिकतम 30 हज़ार रूपये जबकि 15 वार्डो से ऊपर की ग्राम पंचायत के लिए अधिकतम 50 हज़ार रुपये होता था परन्तु मई, 2017 में  इस  वर्गीकरण को हटाकर सरपंच पद के लिए एकमुश्त खर्चे की अधिकतम सीमा  अधिकतम 1 लाख 50 हज़ार रुपये कर दी गयी जिसे अब और बढाकर अधिकतम 1 लाख 65 हज़ार रुपये कर दिया गया है. पंचायत/ब्लॉक समिति सदस्य के लिए पहले अधिकतम एक लाख रुपये खर्चे की सीमा थी जिसे मई, 2017 में अधिकतम 3 लाख रुपये किया गया था उसे  अब बढाकर अधिकतम 3 लाख 30 हज़ार रुपये कर दिया गया है. वहीं  जिला परिषद् सदस्य के लिए पहले अधिकतम 2 लाख रुपये निर्धारित  किये थे, जिसे मई, 2017 में अधिकतम 5 लाख रुपये किया गया था, उसे  अब बढाकर अधिकतम 5 लाख 50 हज़ार रुपये कर दिया गया है.  हेमंत ने बताया की हालांकि हरियाणा में नगर निगम के मेयर एवं नगर परिषद/पालिका के अध्यक्ष का चुनाव सीधे मतदाताओं द्वारा करवाने सम्बन्धी कानूनों  में संशोधन किया गया  परन्तु जिला परिषद और पंचायत समिति के चेयरमैन /अध्यक्ष का चुनाव  ऐसे सीधे नहीं करवाया जा सकता चूँकि  राज्य सरकार ऐसा करने के लिए कानूनी तौर पर सक्षम नहीं है. 

411 thoughts on “जिला परिषद चुनाव प्रत्याशी खर्च कर सकेगा 5 .50 लाख, सरपंच 1.65 लाख रुपये”

Leave a Reply

Your email address will not be published.