• Wed. May 18th, 2022

जल जीवन मिशन से देश की अर्थव्यस्था को मिलेगी गति।

Byadmin

Mar 25, 2021


-दिसंबर 2022 तक हरियाणा के सभी ग्रामीण घरों में नल कनेक्शन से स्वच्छ पेयजल की सप्लाई
अम्बाला, 25 मार्च:- केन्द्रीय जलशक्ति राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने लोकसभा में सांसद राजेश भाई चुडासमा द्वारा पूछे गए प्रश्न के जवाब में लिखित उत्तर द्वारा बताया कि केन्द्र सरकार के जलशक्ति मंत्रालय द्वारा चलायी जा रही जल जीवन मिशन योजना के तहत वर्ष 2024 तक देश के सभी ग्रामीण घरों में नल के कनेक्शन द्वारा पीने योग्य पानी पहुंचाने की योजना है, जिसके लिए लगभग 3.60 लाख करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित है। जहां 2020-21 में इस मिशन के लिए 20,000 करोड़ रूपये का बजट आवंटित किया गया था, वहीं 2021-22 के केन्द्रीय बजट में इसे बढ़ाकर 50,011 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। यह जानकारी उन्होने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से दी।
श्री कटारिया ने बताया कि देश की अर्थव्यवस्था को गति देने में यह योजना महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। उन्होंने बताया कि गांवों में हर एक घर तक नल कनेक्शन पहुंचाने के लिए जल संसाधन प्रबंधन के बुनियादी ढ़ांचे को विकसित करना होगा, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में अर्ध कुशल और कुशल मानव संसाधन की पूर्ति के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। इसके अलावा इस योजना के लिए जरूरी बुनियादी ढ़ांचे के निर्माण में जरूरी वस्तुओं की मांग के कारण भी ग्रामीण क्षेत्रों में अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। जल जीवन मिशन में बनाएं जाने वाली ग्राम पानी और स्वच्छता समिति में महिलाओं 50 प्रतिशत और समाज के कमजोर वर्ग के लोगों 25 प्रतिशत के प्रतिनिधित्व का प्रावधान होने से सभी वर्गों को लाभ होगा।
लोकसभा सांसद बृजेन्द्र सिंह द्वारा उठाए गए एक अन्य अतारांकित प्रश्न के जवाब में रतन लाल कटारिया ने बताया कि वर्तमान में हरियाणा में 98.17 प्रतिशत ग्रामीण बस्तियों में रहने वाली 97.74 प्रतिशत ग्रामीण आबादी को 40 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन पीने योग्य पानी की सप्लाई की जा रही है। जल जीवन मिशन के विषय में उन्होंने बताया कि इस मिशन का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण घरों में पीने के पानी की न्यूनतम 55 लीटर प्रति व्यक्ति प्रति दिन उपलब्धता सुनिश्चित करना है। कटारिया ने कहा कि वर्तमान में देश में लगभग 7.15 करोड़, 37.28 प्रतिशत ग्रामीण घरों में नल से जल की आपूर्ति उपलब्ध है, जिसे 2024 तक 100 प्रतिशत करने का लक्ष्य इस मिशन के तहत सरकार ने तय किया है। हरियाणा में जल जीवन मिशन की प्रगति के विषय में बताया गया कि राज्य में वर्तमान समय में 31.03 लाख ग्रामीण घरों में से 26.88 लाख, 86.63 प्रतिशत घरों में नल से पानी की सप्लाई की उपलब्धता है। राज्य सरकार ने दिसंबर, 2022 तक हर ग्रामीण घर तक नल के कनेक्शन से प्रतिदिन प्रति व्यक्ति 55 लीटर पीने योग्य पानी पहुंचाने के लिए लक्ष्य निर्धारित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.