• Mon. Jun 27th, 2022

गैस,डीजल,पेट्रोल पर कीमत से ज़्यादा वसूला जा रहा सरकारी लगान जनता और अर्थव्यवस्था का गला घोट रहा :चित्रा सरवारा

Byadmin

Jul 23, 2021

पीएम और सीएम दया और दूरदर्शिता दिखाएं, एक्साइज और वैट घटायें :चित्रा सरवारा 
अम्बाला छावनी : हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट की नेत्री चित्रा सरवारा के नेतृत्व में आज कमरतोड़ महंगाई के खिलाफ अम्बाला छावनी के सदर बाजार चौक में टीम व जन नागरिकों द्वारा जोरदार प्रदर्शन किया गया। भीषण गर्मी के बीच एकत्रित एचडीएफ के पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं और जनसाधारण को संबोधित करते हुए चित्रा सरवारा ने केंद्र और प्रदेश की सरकार भाजपा सरकार पर ताबड़तोड़ हमले किए। चित्रा सरवारा ने कहा कि भाजपा के सात साल के कार्यकाल में देश की जीडीपी माइनस में चली गई है जबकि गैस, डीजल, पेट्रोल और अन्य जीवनउपयोगी सामानों की कीमत आसमान को छू रही है। हैरानी और दुख की बात है कि ईन कीमतों में असली पेट्रोल डीजल की कीमत कम और सरकार का लगान ज़्यादा है। पेट्रोल में लगभग 60% और डीजल में लगभग 50% की राशि बतौर लगान हमारे पीएम और सीएम के खाते में बतौर एक्साइज और वैट के रूप में जा रही है। दुनिया में कच्चे तेल की कीमतें पिछले साल और अब हाल में 5 जुलाई को नीचे भी आयी पर भाजपा सरकार ने 1 प्रतिशत की राहत भी जनता को नहीं दी।
गैस, डीजल, पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के फल स्वरूप आज सब महंगा हो गया है – हर सेक्टर में चाहे खेती हो या उद्योग, कच्चे माल से लेकर उत्पादन और बिक्री तक। खेती से लेकर हर छोटे बड़े उद्योग और दुकान पर इसकी मार पड़ रही है। अगर भाजपा सरकार अपने लगान में थोड़ी सी भी राहत देगी तो नागरिक और अर्थव्यवस्था को साँस आ जाएगा। 
 इन सात सालों में देश के विकास के नाम पर लागू की गई नोटबंदी, जीएसटी समेत सभी योजनाओं से देश के लोग गरीब हो गए हैं और सत्तापक्ष के चहेते लोगों की खजाने भर गए हैं। एक रिपोर्ट और एसबीआई के सर्वे अनुसार हालत यह है कि लोग अपने घर का खर्च चलाने के लिए जेवरात और बैंक में रखी एफडी तुड़वा रहे हैं। आज 50 प्रतिशत  देश की जनता अपनी जोड़ी हुई जमा पूंजी से खा रही है, उधार हर तरफ चढ़ गया है, रोजगार निम्नतम स्तर पर है लेकिन सरकार के रवैय्या में ना कोई ममता है ना दया।
उन्होंने कहा कि सात महीने से किसान दिल्ल बॉर्डर पर धरना दे रहे हैं। लेकिन सरकार हठधर्मी के साथ यह देख रही है कि कब ये लोग तंग आकर धरने से उठ जाएं। उन्होंने कहा कि यदि किसान आंदोलन फेल हो गया तो देश का सिस्टम फेल हो जाएगा। सरकार के चहेते पूंजीपति अपनी मनमर्जी करके जीवन उपयोगी सामान के रेट आसमान पर चढ़ा देंगे और आम आदमियों का जीना दुभर हो जाएगा। उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी की मार झेलने के बाद कोरोना काल से अम्बाला के छोटे उद्योग और साइंस इंडस्ट्री की कमर टूट चुकी है। यहां काम करने वाले लोग परेशानियां झेल रहे हैं। दुकानदारों का काम ठप्प हो जाने से वहां काम करने वाले हजारों लोग रोजी रोटी कमाने के लिए इधर उधर भटक रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकास के नाम पर केवल चकाचौंध दिखाई जा रही है। अम्बाला छावनी में बीते सात सालों में सड़कों को बनाने और फिर उखाड़ने का ही काम किया जा रहा है। बरसाती पानी के निकासी के हालत यह है कि मानसून की पहली बारिश में  ही 30 करोड़ की लागत से बना सुभाष पार्क पानी में डूबता दिखाई दिया। पूरे शहर की गलियां और सड़के बरसाती पानी से लबालब भरी थी। नाले और नालियाें का भी बुरा हाल था। अंबाला में ही देख लें तो मूलभूत बिजली पाणि की समस्या ने लोगों की जान निकाल दी है। महंगाई झेल रहे लोगो चमक चांदनी वाली इमारतों को विकास नहीं बर्बादी समझ रहे हैं।
उन्होंने कहा कि अब तो कुछ लोग यह भी कहने लगे है कि जब सरकार सुनती ही नहीं ताे फिर धरने प्रदर्शन करने का क्या लाभ। चित्रा सरवारा ने कहा कि देश के लोगों को सात महीने से धरने से बैठे किसानों से सबक लेकर अपनी आवाज बुलंद करनी होगी और फिर या तो सभी बचेंगे या फिर सभी मरेंगे। उन्होंने कहा कि अपने वजूद को खत्म होने से बचाने के लिए लोगों को बिना डरे बोलना होगा, अधिकारों को मांगना होगा और सरकार के खिलाफ खड़ा होना होगा। इस अवसर पर मुख्य रूप से ब्रहमपाल राणा, सुरेश त्रेहन, विकास वालिया, अमीषा चावला, विनोद धीमान, अविनाश,वीरेंदर गांधी, विजय गुम्बर, गगन डांग, सुभाष भाची, जरनैल माजरा, रामपाल मंडान, सोनू गुज्जर, रोहित शर्मा विशु, परविंदर बंटी, रोबिन खोड़ा, नीतू अरोड़ा, राजा दानीपुर, अशोक शर्मा, सुरिंदर राजू शर्मा, अतुल महाजन, सुरिंदर लोहट, राजन शास्त्री, जय धीमान, राजीव धीमान, कृष्णा धीमान, वंदना कौशल, गुरदेव गरनाला, बंटी चंद्रपुरी, छज्जू राणा, मनीष मेहता, हरमिंदर हीरा, शीतल वर्मा, कुलवंत सिंह, राजिंदर पंडित, योगेश कुमार, अमित हांडा, राजकुमार सुंदरनगर, मलकियत सिंह, नरिंदर शाह, अमित मेहंदीरत्ता, राजीव दुग्गल,संजीव शर्मा,प्रेम नम्बरदार, भोला बग्गन, जसपाल राणा,गौरव मंडान,राजीव अनेजा, प्रदीप कुमार, डेनी, जगतार सिंह, अजय पहलवान, मनीष, गुरकिरपाल सिंह जस्सल, अवतार बरनाला, प्रमोद, राहुल शर्मा, विशाल पासी, मनु टांक, पंकज जैन, नरेश जैन,कर्मचंद,गुरनाम नन्हेड़ा,प्रेम नन्हेड़ा,टीटा पूर्व सरपंच,प्रताप पूर्व सरपंच, समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

2,003 thoughts on “गैस,डीजल,पेट्रोल पर कीमत से ज़्यादा वसूला जा रहा सरकारी लगान जनता और अर्थव्यवस्था का गला घोट रहा :चित्रा सरवारा”
  1. Pretty nice post. I simply stumbled upon your weblog and wished to mention that I’ve truly loved browsing your blog posts. In any case I will be subscribing in your feed and I am hoping you write again soon!|

  2. We stumbled over here different web address and thought I might as well check things out. I like what I see so now i am following you. Look forward to exploring your web page again.|

  3. I don’t even know how I ended up here, but I thought this put up was great. I do not know who you might be however certainly you are going to a famous blogger if you are not already. Cheers!|

  4. Heya i am for the primary time here. I came across this board and I find It really useful & it helped me out a lot. I hope to give something again and aid others like you aided me.|

  5. I don’t know if it’s just me or if perhaps everybody else encountering problems with your website. It seems like some of the text within your posts are running off the screen. Can someone else please provide feedback and let me know if this is happening to them too? This might be a issue with my browser because I’ve had this happen before. Thanks|

  6. I’m no longer positive the place you are getting your information, however good topic. I must spend a while learning more or understanding more. Thanks for fantastic information I was searching for this info for my mission.|

  7. you are in point of fact a excellent webmaster. The site loading pace is incredible. It sort of feels that you are doing any unique trick. Also, The contents are masterpiece. you have done a excellent activity in this subject!|

  8. Unquestionably imagine that that you said. Your favorite reason appeared to be at the internet the easiest factor to take into accout of. I say to you, I certainly get annoyed whilst people consider concerns that they just do not recognize about. You controlled to hit the nail upon the top and also defined out the whole thing with no need side effect , other people can take a signal. Will likely be back to get more. Thanks|

  9. I’m not positive where you are getting your information, however great topic. I must spend some time learning much more or working out more. Thank you for wonderful information I was looking for this info for my mission.|

  10. Hmm it appears like your website ate my first comment (it was super long) so I guess I’ll just sum it up what I submitted and say, I’m thoroughly enjoying your blog. I as well am an aspiring blog writer but I’m still new to the whole thing. Do you have any tips for rookie blog writers? I’d certainly appreciate it.|

  11. This design is spectacular! You obviously know how to keep a reader amused. Between your wit and your videos, I was almost moved to start my own blog (well, almost…HaHa!) Wonderful job. I really enjoyed what you had to say, and more than that, how you presented it. Too cool!|

  12. Good post. I learn something new and challenging on sites I stumbleupon everyday. It will always be interesting to read through articles from other writers and use something from their web sites. |

  13. When I initially commented I clicked the “Notify me when new comments are added” checkbox and now each time a comment is added I get several emails with the same comment. Is there any way you can remove me from that service? Many thanks!|

  14. Hello! I know this is kinda off topic but I was wondering if you knew where I could get a captcha plugin for my comment form? I’m using the same blog platform as yours and I’m having problems finding one? Thanks a lot!|

  15. A motivating discussion is definitely worth comment. I believe that you ought to publish more on this subject, it may not be a taboo matter but typically folks don’t speak about such topics. To the next! All the best!!|

  16. Please let me know if you’re looking for a article author for your weblog. You have some really great articles and I feel I would be a good asset. If you ever want to take some of the load off, I’d love to write some articles for your blog in exchange for a link back to mine. Please shoot me an email if interested. Many thanks!|

  17. Hi, i think that i saw you visited my website so i came to “return the favor”.I am attempting to find things to improve my website!I suppose its ok to use a few of your ideas!!|