• Thu. Jan 27th, 2022

गुरुओं के दिखाए मार्ग पर चल कर हम समाज के उत्थान में अपना योगदान दे सकते हैं – डॉ बनवारी लाल

Byadmin

Jul 24, 2021

चंडीगढ़, 24 जुलाई- हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि हम सभी को गुरुओं का आशीर्वाद लेना चाहिए। गुरुओं के दिखाए मार्ग पर चल कर हम समाज के उत्थान में अपना अहम योगदान दे सकते हैं ।

        सहकारिता मंत्री ने आज जिला पंचकूला के पिंजौर में स्थित गुरु रविदास जी महाराज के मंदिर में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर माथा टेकने के उपरांत कहा कि आज गुरु पूर्णिमा का पवित्र दिन है और वे आज यहां गुरु रविदास जी महाराज का आशीर्वाद लेने आए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार द्वारा महापुरूषों और गुरुओं  के नाम से समारोह व कार्यक्रम आयोजित करवाये जाते हैं ताकि लोग ऐसे महापुरूषों की शिक्षाओं से सीख ले सकें और आने वाली पीढ़ियां इन महापुरूषों की शिक्षाओं को अपने जीवन मे अपनाकर आगे बढ़ सकें ।

        उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की नेतृत्व वाली वर्तमान हरियाणा सरकार ने हर वर्ग का विकास व उत्थान तथा कल्याण करने के लिए व्यवस्थाओं में आमूलचूल परिवर्तन करने का काम किया है जिसके तहत अनुसूचित जाति व पिछड़े वर्ग के उत्थान के लिए विभिन्न नीतियों व योजनाओं को क्रियान्वित किया जा रहा हैं।

        सहकारिता मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने चार महापुरूषों संत शिरोमणि गुरू रविदास जी, संत कबीरदास जी, महर्षि बाल्मीकि जी तथा डा0 बी0आर0 अम्बेडकर जयंती पर प्रतिवर्ष राज्य स्तरीय समारोह आयोजित करने का निर्णय लिया हुआ है।  उन्होंने गुरु रविदास जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ऐसा माना जाता है कि मध्ययुगीन साधकों में संत रविदास जी का विशिष्ट स्थान है जिनको बाद में संत शिरोमणि की उपाधि से नवाजा गया। वहीं, उनकी प्रतिष्ठा को देखते हुए बहुत से राजा-महाराजा उनके शिष्य बन गए। गुरू रविदास जी कबीर की तरह ही उच्च कोटि के प्रमुख संत कवियों में विशिष्ट स्थान रखते हैं और स्वयं कबीरदास जी ने संतन में रविदास कहकर इन्हें मान्यता भी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *