• Thu. Oct 21st, 2021

क्षेत्रिय प्रचार अमले द्वारा लोगों को दी जा रही निरन्तर जानकारी:-डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह।

Byadmin

May 29, 2021


अम्बाला, 29 मई:- कोविड-19 के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग का प्रचार वाहन जिला अम्बाला के दूर-दराज के ग्रामीण इलाकों में पहुंच रहा है। ग्रामीण लोगों के घर दहलीज के पास जाकर कोविड-19 से बचाव हेतु सावधानियां रखने, महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा के तहत नियमों का पालन करने आदि के बारे में जानकारी दी जा रही है।
  शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी प्रचार वाहन पहुंच कर लोगों को कोविड-19 तथा महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा के तहत जानकारी दी जा रही है। जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी धर्मवीर सिंह ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि लोगों को बताया जा रहा है कि कोरोना से नहीं डरना है, नियमों का पालन करना है। जीवन की सुरक्षा के लिए तत्काल कदम उठाएं, कोविड-19 संक्रमण के सम्भावित लक्षण दिखाई देने पर अपनी जांच करवाएं। उन्होंने कहा कि विभाग के क्षेत्रीय अमले को पहले से ही निर्देश जारी कर लोगों को जागरूक करने के लिए फिल्ड में उतार दिया गया है, वह पूरे जोर शोर से लोगों को इस विषय के बारे निरन्तर जागरूक करने का काम कर रहें हैं।  
उन्होंने कहा कि जिला में विभिन्न स्थानों पर विभाग द्वारा लगाये गये होर्डिंग पर फलैक्स तथा पोस्टर आदि के माध्यम से कोविड-19 वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी देने के साथ-साथ मास्क लगाने, सोशल डिस्टैंसिग के नियमों का पालन करने तथा हाथों को नियमित रूप से साबुन-पानी से धोने या सैनीटाईजर का प्रयोग करने के बारे में बताया जा रहा है। इसके अलावा इससे सम्बन्धित प्रचार सामग्री बसों पर भी डिस्प्ले करके लोगों को जागरूक किया जा रहा है।
  सूचना जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डॉ अमित अग्रवाल और डीसी अशोक कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में विभिन्न विषयों को लेकर प्रचार जारी है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए आयुर्वेद अपनाने, पौष्टिक आहार लेने, व्यायाम और योग अपनाने तथा लक्षण होने पर डॉक्टर से सलाह लेकर टैस्ट करवाने के बारे में भी प्रचार वाहन के माध्यम से बताया जा रहा है। इसके अलावा यह भी जानकारी दी जा रही है कि लोग एक जिम्मेदार नागरिक का फर्ज निभाएं और अफवाहें न फैलाएं क्योंकि बचाव में ही सुरक्षा है।
बॉक्स:- कोविड-19 संक्रमण के संभावित लक्षण- बुखार, सूखी खांसी, थकान, सांस लेने में कठिनाई, बलगम के साथ खांसी, मासपेशियों में दर्द, नाक बहना, गले में खराश, दस्त, गंध का न आना या स्वाद को न पहचान पाना है। अगर ऐसे लक्षण दिखाई दें तो नजदीकी अस्पताल में जाकर अपनी जांच करवाएं और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करें। जांच करवाने में किसी प्रकार का भय न रखें, यह आपके बेहतर स्वास्थ्य के लिए एक उचित कदम होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *