• Sat. Oct 16th, 2021

कोरोना की आड़ में प्रदेश के व्यापारियों पर सरकारी आदेशों का चलाया जा रहा है डंडा : निर्मल सिंह

Byadmin

Apr 22, 2021

अम्बाला छावनी : हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट के संस्थापक पूर्व मंत्री निर्मल सिंह ने हरियाणा सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि एक तरफ तो सरकार कोरोना से निपटने के पर्याप्त इंतजाम करने के दावे कर रही है। दूसरी ओर प्रदेश के व्यापारियों पर सरकारी आदेशों का डंडा चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृह मंत्री अनिल विज ऐलान कर रहे हैं कि हरियाणा में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। लेकिन दूसरी ओर पहले रात 10 बजे से 5 बजे तक नाईट क्फर्यू लगाकर होटलों और गरीब ढ़ाबे वालों का काम धंधा चौपट कर दिया और अब सरकार के नए ऐलान के मुताबिक सायं 6 बजे से सुबह 5 बजे तक सभी दुकाने बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है। यहां तक की सभी गैर जरूरी समारोह पर प्रतिबंद्ध लगाने के साथ साथ किसी भी घरेलू और सामाजिक कार्य को करने वाले के लिए संबंधित एसडीएम से अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है। निर्मल सिंह ने कहा कि सरकार कोरोना बीमारी का हवाला देकर आखिर नित नए फरमान जारी करके क्या साबित करना चाहती है ? उन्होंने कहा कि बीते वर्ष में लंबे समय तक जारी रखे गए लॉकडाउन के कारण प्रदेश के व्यापारी, मजदूर, दैनिक वेतनभोगी और छोटे मोटे काम धंधे करके परिवार का पालन पोषण करने वाले लोग पहले ही बर्बाद हो चुके हैं। लॉकडाउन खत्म होने के बाद पीड़ित लोगों ने जैसे तैसे अपने काम धंधों को दोबारा शुरू करके अपने परिवार की जिम्मेवारियों को पूरा करने का क्रम शुरू किया था। अब फिर से सरकारी आदेशों की मार से इन लोगों की कमर टूट जाएगी। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में भाजपानीत सरकार की कथनी और करनी में जमीन आसमान का अंतर है। प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति तो इतनी बद्दतर हो रही है कि चोर बेखौफ होकर सरकारी अस्पतालों से काेरोना वैक्सीन चुराने जैसी वारदात भी कर रहे हैं। सरकार के सुरक्षा प्रबंध इतने नाकाफी हैं कि चोर सरकारी संस्थान में प्रवेश करने के बाद चोरी करके बिना डर के नौ दो ग्यराह हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा जजपा सरकार को न तो अपने चुनावी वायदे याद हैं और न ही प्रदेश की जनता की चिंता है। उन्होंने कहा कि हालात यह है कि जनाक्रोश के भय से प्रदेश सरकार के मंत्री और चेयरमैन लोगों के बीच में जाने की हिम्मत भी नहीं जुटा पाते। उन्होंने कहा कि हरियाणा के गठन के बाद से अब तक की यह पहली निंदनीय स्थिती है जिसके चलते सरकार हर मोर्चे पर बेबस दिखाई दे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *