• Sat. Oct 23rd, 2021

किसानों पर हुआ लाठीचार्ज निंदनीय :शुक्ला*

Byadmin

Sep 10, 2020


                  हरियाणा प्रदेश स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिवार जन कल्याण समिति के #प्रदेशाध्यक्ष आंनद मोहन शुक्ला ने कहा है कि पिपली में किसानों की हो रही रैली पर सरकार द्वारा रोक लगाना तोकतंत्र की हत्या है। पिपली में किसानों पर हुये लाठी चार्ज करने पर इस घटना पर हरियाणा सरकार की कड़े शब्दों में निंदा की है। देश की रीढ़ की हड्डी कहे जाने वाले किसानों पर लाठी चार्ज करना बहुत ही निंदनीय इसकी जितनी कड़े शब्दों में निंदा की जाए कम है। इतने बड़े स्वतन्त्रत देश में किसी को भी अपनी आवाज उठाने का हक है। 
                       लाकडाउन के समय मार्च में जब पूरा देश घरों में बंद हुआ बैठा तो किसान खेतों में काम कर रहा था तो यही सरकार कह रही थी किसानों पर लाॅक डाउन लागू नही होगा किसान खेतों में काम कर सकते हैं किसान देश का अन्नदाता होता है और आज ये ही सरकार किसानों पर लाठी चार्ज करवा रही है आज वही किसान अपने हक कि आवाज उठाने के लिए पिपली /कुरूक्षेत्र जाने लगा तो पिपली में लाठीचार्ज किया जा रहा है ।जिन किसानों ने कोरोना महामारी के चलते अपनी जान की परवाह ना करते हुए लोगों का पेट भरने के लिए में देश और प्रदेश को बचाए रखा। कोरोना महामारी जैसी घड़ी में सरकार का पूरा साथ दिया। आज जब वह अपने हक़ की आवाज उठा कर लड़ाई के लिए आगे आए तो उन पर जबर्दस्त बल का प्रयोग कर उन पर लाठी चार्ज किया गया। ये सरकार का तानाशाही रवैया दिख रहा है। क्या अब देश में किसानों /लोगों को अपनी अावाज उठाने का भी हक नही है। जो पूरे देश के लोगों को पाल रहें हैं। तानाशाही से कभी भी कोई काम लंबे नही चला करता ।प्रदेश सरकार को चाहिए की किसानों की आवाज को गंभीरता से ले उनको सुना जाये और उसको हल करने का रास्ता खोजने का काम करे। आज अफ़सोस इस बात का है कि सरकार सत्ता के नशे में चूर किसी की भी आवाज को गंभीरता से नही ले रही।सरकार किसानों भाईयों के दर्द को समझे और हल करे।#

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *