• Tue. Aug 16th, 2022

करीब आठ महीनों बाद विज लौटे टी प्वाइंट पर

Byadmin

Feb 27, 2021

चाय की चुसकियों और गपशप का दौर फिर हुआ शुरू

अंबाला , 27 फरवरी (सुमन ) – पहले पाँव में फ्रेक्चर व बाद में कोरोना की गिरफ्त में आने से करीब 8 महीनों बाद आज फिर गृहमंत्री अनिल विज सदर बाजार के उस टी प्वाइंट पर पहुंचे जहां पिछले 30 सालों से वह हर रोज सुबह अपने साथियों व मीडिया के लोगों से चाय पीने व गपशप करते आ रहे हैं | कहा जाता है कि सुबह के इस खुशनुमा माहोल के चलते उन्होंने चंडीगढ़ की सरकारी कोठी नहीं ली |

     हालांकि अभी वह पूरी तरह स्वस्थ नहीं हैं लेकिन इसके बाबजूद वह आज खुद को यहाँ आने से नहीं रोक पाये | सूबे के गृहमंत्री होते हुए भी अक्सर वह खुद ही अपनी प्राइवेट कार से अकेले हर सुबह यहाँ पहुँच जाते हैं जबकि प्रोटोकॉल के मुताबिक उन्हें पुलिस सुरक्षा में आना चाहिए |

     पिछले कई महीनों से यह टी प्वाइंट सुनसान गया था आज सुबह यहाँ फिर रौनक लौटी नजर आई | विज विधायक रहे हो या विधायक न रहे हों या फिर केबिनेट मंत्री रहे हों यहाँ आने से नहीं चूकते | झुलसा देने वाली गर्मी हो या फिर कंपकंपा देने वाली ठंड विज यहाँ हमेशा नजर आए | तेज बरसात भी उन्हें यहाँ आने नहीं रोक पाती |

     आज सुबह जब विज टी प्वाइंट पर पहुंचे तो उनकी पुरानी टीम के साथियों ने उनका जोरदार स्वागत किया | इस टीम के एक सदस्य संजीव वालिया का कहना था की पिछले कई महीनों से यहाँ हर कुछ सूना नजर आता था आज लगता है कि  बहार फिर लौट आई है | सुमन जैन कहते हैं कि  यहाँ विज सहहब के साथ बैठ कर नई ऊर्जा मिलती है | कमल किशोर जैन ने कहा कि पिछले दो दशकों से मैं यहाँ विज के साथ बैठ रहा  हूँ | यहाँ के माहोल का मजा ही कुछ अलग है | विज के यहाँ आने पर दिनेश अग्रवाल और विजेंदर चौहान आज सबसे ज्यादा खुश नजर आए |

     जब अनिल विज से उनके फिर टी प्वाइंट पर लौटने को लेकर पूछा तो उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते मुझे दो महीने कृत्रिम आक्सीजन लेनी पड़ी लेकिन सुबह चाय की चुसकियों से जो कुदरती आक्सीजन व संजीवनी यहाँ मिलती है वह मेरे लिए किसी अमृत से कम नहीं है | मैं मंत्री रहूँ या न रहूँ इस अड्डे को नहीं छोडूंगा | मैंने ज़िंदगी और राजनीति के कई उतार चढ़ाव यहीं दुकान के बाहर बने थड़ों पर बैठ कर देखे हैं | यह टी प्वाइंट मेरे लंबे सियासी जंग का गवाह है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.