• Thu. Jan 27th, 2022

एमएम (डीयू) मुलाना   को मिला , (नैक) से उच्चतम ग्रेड ‘A++’

Byadmin

Dec 21, 2021

एमएम (डीयू) मुलाना   को मिला , (नैक) से उच्चतम ग्रेड ‘A++’

मैनेजमेंट ने एम् एम् (डीयू)  परिवार का आभार जताया  
 अम्बाला (मुलाना ):- 21 दिसम्बर

                                                       महर्षि मारकंडेश्वर (डीम्ड टू बी ) यूनिवर्सिटी सफलता के पथ पर अग्रसर होते हुए सबसे प्रतिष्ठित राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) द्वारा उच्चतम ग्रेड A++ से मान्यता दी गई है।
                                                    1994 में स्थापित,  नैक, यू जी सी का एक स्वायत्त निकाय है जो उच्च शिक्षा संस्थानों (HEI) का मूल्यांकन और मान्यता देता है                                                       महर्षि मारकंडेश्वर (डीम्ड टू बी ) यूनिवर्सिटी  को नैक 3.51 सी जी पी ए और उससे अधिक अंक प्राप्त करने पर ए ++ मिला  है।   गत दिवस 13 से 15 दिसंबर, 2021 के दौरान, नैक पीयर टीम की समीक्षा के बाद ग्रेड की घोषणा की गई है। नैक की इस सहकर्मी टीम में असम, छत्तीसगढ़, गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों के सात सदस्य शामिल थे।

                                                     
                                                  इस अवसर पर कुलाधिपति एस. तरसेम कुमार गर्ग ने कहा, “एमएम (डीयू) के लिए यह मील का पत्थर साबित हुआ हैः उन्होंने कहा की यह सब शिक्षकों, गैर-शिक्षण कर्मचारियों, छात्रों सहित एमएम परिवार के सभी सदस्यों द्वारा की गई कड़ी मेहनत और अथक प्रयास का ही नतीजा हैः उन्होंने यह भी कहा कि हम भविष्य में न केवल इस ग्रेडिंग को बनाए रखेंगे बल्कि अकादमिक, अनुसंधान और अन्य क्षेत्रों में अपने प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए कड़ी मेहनत भी करते रहेंगे।  ”एमएम ग्रुप छात्रों को उच्चतम गुणवत्ता की शिक्षा देने और राष्ट्रीय विकास में योगदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।

                                                   प्रो हरीश शर्मा, कुलपति-एमएमडीयू ने बताया कि यह उच्चतम ग्रेड, प्रतिष्ठित नैक द्वारा किसी संस्थान को अनुसंधान, भौतिक सुविधाओं, बुनियादी ढांचे, सीखने के संसाधनों, मूल्यांकन, नवाचार और शासन सहित विभिन्न मानकों के आधार पर एक कड़े मूल्यांकन का पालन करके दिया गया  है। 

                                                        विश्वविद्यालय को आज से अगले 5 साल की अवधि के लिए मान्य ए++ के उच्चतम ग्रेड के साथ 3.53 का सीजीपीए मिला। उन्होंने आगे बताया कि जुलाई, 2017 में शुरू की गई नई मान्यता प्रणाली में अब तक नैक द्वारा विश्वविद्यालयों और कॉलेजों सहित कुल 2316 संस्थानों को मान्यता दी गई है। इन संस्थानों में से केवल 42 संस्थानों को, जो कुल संस्थानों का 1.8% है, ग्रेड ए++ से मान्यता प्राप्त है। इसलिए एमएम (डीयू) के लिए देश के शीर्ष 1.8% संस्थानों की इस प्रतिष्ठित लीग में शामिल होना वास्तव में गर्व का क्षण है। 

                           एमएम (डीयू) के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है ,अब एमएम (डीयू) का परचम  भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में लहराएगा .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *