• Thu. Oct 21st, 2021

एकदम लॉकडाउन लगाने का औचित्य समझ नहीं आया : चित्रा सरवारा

Byadmin

May 3, 2021

अम्बाला : हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट की नेत्री चित्रा सरवारा ने कहा कि लोगों को लॉकडाउन लगने पर एतराज नहीं है। लेकिन सवाल इस बात पर है कि इसे जैसे और जब लगाया गया उससे पहले लोगो को 2 दिन का समय देना चाहिए था। उन्होंने कहा कि लोगों में ये आम चर्चा थी कि लॉकडाउन लगेगा। आधे दिन का लगेगा या पूरे दिन का लगेगा। सारे बाजार बंद होंगे या आधे बाजार बंद होंगे। इसी बीच बाजारों में दुकानदारो के साथ पुलिस ने ज्यादती की अब अचानक घोषणा कर दी कि 3 मई से एक सप्ताह का संपूर्ण लॉकडाउन लगेगा। उन्होंने कहा कि एकदम लॉकडाउन लगाने का औचित्य समझ नहीं आया। बेहतर होता लोगों को तैयारी के लिए 2 दिन का समय दिया जाता ताकि लोग अपनी जरूरत का घरेलू सामान और दवाईयां खरीद कर रख लेते। अब बिना समय दिए लॉकडाउन लागू करने से लोगों की जान मुसीबत में डाल दी गई और बाजारों में पिछले लॉकडाउन की तरह अफरा तफरी का माहौल बन गया। उन्होंने आरोप लगाया कि  भाजपा ने बंगाल चुनावों के कारण देशवासियों की जिंदगी से खिलवाड़ किया जबकि विदेशों में भी यह आवाज उठ रही थी कि भारत को तत्काल लॉकडाउन की जरूरत है। बंगाल में पूरे विपक्ष ने मांग की थी आखिरी चरण का चुनाव एक बार में कराया जाए। लेकिन अकेली भाजपा ही नहीं मानी। उत्तर प्रदेश में चुनावों में सरकारी कर्मचारियों की ड्यूटियां लगने से 700 टीचरों की जान की आहुति देनी पड़ी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन लगाते वक्त मानवीय दृष्टिकोण सामने न रखकर सरकार ने अपनी मनमानी लोगों पर थोप दी। लोगों को साथ लेकर न चलने से लोग परेशान है। ऊपर से अस्पष्ट नोटिफिकेशन से लोग भ्रमित हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा की कथनी और करनी में जमीन आसमान का अंतर है। भाजपा के दावे और आंकड़े आपस में मेल नहीं खाते। सरकार ने आज से 18 से 40 वर्ष की उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण की शुरूआत करने की घोषणा तो कर दी। लेकिन सरकार के पास वैक्सीन का स्टॉक ही नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार पहले जारी नोटिफिकेशन जारी करे और फिर लॉकडाउन लगाकर कोरोना महामारी के खिलाफ आर पार की लड़ाई लड़े अन्यथा यूं ही बार बार लॉकडाउन लगाने से समाज के गरीब, मध्यम वर्ग के लोगों के साथ साथ छोटे बड़े दुकानदार रोजी रोटी से मोहताज होते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *