• Sun. Oct 24th, 2021

असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के पंजीकरण के लिए राष्ट्रीय पंजीकरण पोर्टल द्वारा यूनीक पहचान पत्र निशुल्क जारी करने के लिए 26 अगस्त से देश भर में पंजीकरण प्रक्रिया प्रारम्भ।

Byadmin

Sep 10, 2021

-असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के पंजीकरण के लिए राष्ट्रीय पंजीकरण पोर्टल द्वारा यूनीक पहचान पत्र निशुल्क जारी करने के लिए 26 अगस्त से देश भर में पंजीकरण प्रक्रिया प्रारम्भ।
अम्बाला, 10 सितम्बर:-
 असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के पंजीकरण के लिए भारत सरकार श्रम एवं रोजगार मन्त्रालय द्वारा राष्ट्रीय पंजीकरण पोर्टल के द्वारा यूनीक पहचान पत्र निशुल्क जारी करने के लिए 26 अगस्त से देश भर में पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की गई है।
भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले सभी श्रमिकों का राष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्रीय स्तर पर डाटा-बेस तथा यूनीक आई0ई0कार्ड जारी करने के लिए ई-श्रम पोर्टल भूपेन्द्र यादव, केन्द्रीय मंत्री श्रम एवं रोजगार, भारत सरकार द्वारा राज्यों/संघशासित प्रदेशों को सौंपा गया है। ए.एल.सी. कार्यालय द्वारा जारी पत्र के अनुसार इस पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को नागरिक सुविधा केन्द्रों पर अपना पंजीकरण करवाया जा रहा है, जो कि पूर्णत: निशुल्क है।
इस पंजीकरण हेतू भवन एवं अन्य सनिर्माण कामगार, प्रवासी मजदूर, घरेलू नौकर, छोटे किसान, कृषि व इससे सम्बधिंत अन्य क्षेत्रों में लगें मजदूर, पशु पालक, स्वरोजगार कर्मी, स्ट्रीट वैंडरस, आशा वर्कर, आंगनवाड़ी वर्कर, मछली पालक मजदूर, छोटे दुकानदार, रेहड़ी व फड़ लगाने वाले, घरेलू कामगार, कॉरपेंटर, पलम्बर, रिक्शा चालक, छोटे चालक , टैक्सी चालक, मनरेगा श्रमिक, लोडिंग अनलोडिंग में लगे मजदूर व अन्य सभी श्रमिक जो कि किसी भी सरकारी सेवा व संगठित क्षेत्र में कार्यरत नहीं है तथा वे पी0एफ 0, ई0एस0आई0 व एन0पी0एस0 के खाताधारक व आयकर दाता नहीं हैं तथा उनकी आयु 18 से 59 वर्ष के बीच है, वह सभी अपने नजदीक के अटल सेवा केन्द्रों/ नागरिक सुविधा केन्द्रों पर जाकर अपना पंजीकरण करवा सकते है।
श्रमिक को यूनिक आई0डी0 कार्ड के माध्यम से भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा असंगठित श्रमिकों के लिए चलाई जा रही व भविष्य में शुरू होने वाली सभी योजनाओं का लाभ मिलेगा। इस पंजीकरण के माध्यम से केन्द्र व राज्य सरकारों के पास किस-2 वर्ग/ कार्यक्षेत्र में असंगठित श्रमिक कार्यरत है तथा उनकी संख्या राज्यवार कितनी है तथा इन श्रमिकों की गतिविधियां किस राज्य से किस राज्य में आने-जाने की रहती हैं, उसको आसानी से चिन्हित किया जा सकेगा तथा साथ ही उनके लिए आवश्यक सामाजिक सुरक्षा व अन्य कल्याणकारी योजनाओं को बनाने में सुविधा रहेगी। आपदा के समय इन संगठित श्रमिकों की पहचान तथा उन्हें मूलभूत आवश्यक सुविधाएं पहुंचाने में भी यह राष्ट्रीय अंसगठित पंजीकरण डाटाबेस बहुत ही सहयोगी व लाभकारी सिद्ध होगा।
आवेदन के समय कौन-कौन से दस्तावेज होने जरूरी:-
पंजीकरण के समय आवेदक के पास अपना आधारकार्ड, बैंक खाता की कापी और मोबाईल नम्बर जो कि आधार नम्बर से जुड़ा हो, आवेदन के लिए अनिवार्य हैं। सभी नागरिक सुविधा केन्द्र/अटल सेवा केन्द्रों पर यह पंजीकरण निशुल्क होंगे तथा इसके लिए कोई भी फीस देय नहीं होगी। यदि कोई व्यक्ति इस पंजीकरण कार्य के लिए कोई फीस या शुल्क मांगता है तो इसकी सूचना जिला के श्रम कार्यालय या उपायुक्त कार्यालय को दें।

Related Post

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय से शनिवार को हरियाणा खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के चेयरमैन श्री रामनिवास ने शिष्टाचार मुलाकात की और बोर्ड की गतिविधियों की जानकारी दी।
राजकीय महाविद्यालय नारायणगढ़ में प्राचार्य संजीव कुमार की अध्यक्षता में महिला प्रकोष्ठ के तहत करवा चौथ की पूर्व संध्या पर इस उपलक्ष में मेहंदी प्रतियोगिता तथा नेल आर्ट प्रतियोगिता  का आयोजन किया गया।
कैम्पेन आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अध्यक्ष एवं सैशन जज सुश्री नीरजा कुलवंत कलसन के निर्देशानुसार रविवार 24 अक्तूबर को संयुक्त राष्ट्र दिवस के अंतर्गत आज हर्बल पार्क अम्बाला शहर के नजदीक वॉक थॉन (शांति मार्च) का आयोजन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed