• Thu. Oct 21st, 2021

अवैध शराब की ब्रिकी को रोकने के लिये की जा रही है सैम्पलिंग

Byadmin

Nov 10, 2020

—खुर्दों और गैर मान्यता प्राप्त स्थानों से न खरीदें शराब–इस विषय बारे जिला के लोगों को किया जा रहा है जागरूक:-डीईटीसी एन.के. ग्रेवाल।
अम्बाला, 10 अक्तूबर:-
 प्रदेश के कुछ जिलों में जहरीली शराब से हुई कुछ लोगों की मृत्यु के मामले को गम्भीरता से लेते हुए सरकार व जिला प्रशासन द्वारा उचित कदम उठाएं जा रहें हैं। इस बारे में जहां लोगों को जागरूक करने के लिए विशेष अभियान शुरू किया गया हैं, वहीं पर आबकारी विभाग व पुलिस विभाग द्वारा शराब तस्करों तथा अवैध रूप से शराब बेचने वालों पर अंकुश लगाने के लिए भी सैम्पल लेने के साथ-साथ विशेष कदम उठाएं जा रहें हैं। इस बारे में जानकारी देते हुए डीटीसी एनके ग्रेवाल ने कहा कि लोग आबकारी विभाग व हरियाणा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त ठेकों से ही शराब खरीदें। गली-मोहल्लों एवं तस्करों से शराब न खरीदें। वह नकली और जहरीली हो सकती हैं। जिससे जान भी जा सकती हैं। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया है कि अगर उनके गली, मोहल्लें व आस पड़ोस में कोई अवैध रूप से शराब बेचता है व शराब की तस्करी करता है, तो उसकी सूचना आबकारी विभाग को दें। सूचना देने वाले का नाम व पहचान गुप्त रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि सूचना मोबाईल नम्बरों 94668-89118, 941637-5779 तथा 96712-27329 पर दी जा सकती हैं।
दूसरी ओर जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी धर्मवीर सिंह ने बताया कि लोगों को इस बारे में जागरूक करने के लिए जिला के शहरी क्षेत्र के अलावा दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों में भी ऑडियो के माध्यम से जानकारी दी जा रही हैं। इसके लिए खण्ड प्रचार कार्यकत्र्ताओं की डयूटी लगाई गई है कि वे प्रचार वाहन के माध्यम से लोगों के बीच जाकर उन्हें अवैध रूप से शराब बेचने वालों एवं तस्करी करने वालों की जानकारी प्रशासन को देने का अनुरोध कर रहे हैं। इसके साथ ही कोविड-19 के बारे में भी जागरूक किया जा रहा हैं। लोगों को बताया जा रहा हैं कि वे कोरोना वैश्विक महामारी को हलके में न लें, जब तक वैकसीन नहीं बन जाती, तब तक ढिलाई न बरतें। फेस्टिवल सीजन में यह और भी अधिक आवश्यक है कि लोग भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। दिवाली आदि खुशियों के पर्व को सावधानी एवं सतर्कता बरतते हुए त्यौहारों को मनाए, जिससे की कोविड-19 के संक्रमण से बचा जा सकें।
उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ाई अभी जारी हैं। इसलिए यदि कोरोना वायरस से सम्बधिंत कोई भी लक्षण नजर आए तो तुरन्त अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र एवं अस्पताल में जाकर जांच करवाएं और संक्रमित पाए जाने पर अपना उपचार करवाएं। उन्होनें कहा कि बुखार, सुखी खांसी तथा सांस लेने में कठिनाई, कफ के साथ खांसी, मासपेशियों में दर्द, नाक बहना, गले में खराश, दस्त, गंन्ध का न आना या स्वाद को न पहचान पाना आदि लक्षण दिखाई देने पर अपनी जांच करवाएं। नियमित रूप से योग एवं ध्यान करें। अपनों के सम्पर्क में रहें और अपनी भावनाओं को सांझा करें। इसके अतिरिक्त सक्रिय रहें और मनोरंजक गतिविधियों मे खुद को व्यस्थ रखें। तम्बाकू, शराब और नशीलें पदार्थो से दूर रहें व पर्याप्त नींद लें। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण व बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए सरकार ने दिवाली पर सिर्फ दो घंटों के लिए ही पटाखें जलाने की छूट दी हैं और पटाखें भी प्रशासन द्वारा निर्धारित किए गए स्थानों पर जिन पटाखा विक्रेताओं को लाईसेंस जारी किए गए हैं वे ही पटाखें उन पटाखों को बेच सकते हैं, जिनसे की कम वायु प्रदूषण होता है।
बॉक्स:- डीईटीसी ग्रेवाल ने बताया कि अवैध शराब की बिक्री को रोकने के लिये आबकारी विभाग ने अक्तूबर मास से ही कमर कस रखी है। विभाग द्वारा 24 स्थानों पर रेड की और 18 अवैध खुर्दे चलते पाये गये, जिसके चलते अवैध रूप से शराब बेचने वालों पर 18 एफआईआर की गई हैं। शराब की गुणवत्ता को नियमित करने और परखने के लिये सैम्पल लेने का कार्य निरंतरता में जारी है। अब तक 188 सैम्पल लिये गये हैं और इन्हें कैमिकल जांच के लिये भेजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *