• Sat. Jul 2nd, 2022

अवैध खनन व अवैध खनिज सम्बन्धी विषय को लेकर डी.सी. ने अधिकारियों को दिये आवश्यक दिशा-निर्देश।

Byadmin

Jul 7, 2021


अम्बाला, 7 जुलाई:-
 उपायुक्त विक्रम सिंह ने बुधवार अपने कार्यालय में जिला टास्क फोर्स की एक बैठक लेते हुए अवैध खनन व अवैध खनिज परिवहन के तहत की जा रही कार्रवाई बारे सम्बन्धित अधिकारियों से एंजैडे में रखे बिन्दुओं के तहत विस्तारपूर्वक चर्चा करते हुए समीक्षा की। उन्होंने इन विषयों को लेकर सम्बन्धित अधिकारियों को बेहतर समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश दिये।
उपायुक्त ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिला माईनिंग अधिकारी से अवैध खनन के दृष्टिगत की जा रही कार्रवाई बारे जानकारी हासिल की। स्क्रीनिंग प्लांट के बारे में भी जानकारी लेते हुए उपायुक्त ने सम्बन्धित अधिकारी से विस्तारपूर्वक जानकारी ली। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय प्रबंधक नितिन मेहता ने बताया कि जिले में 78 स्क्रीनिंग प्लांट लगाये गये हैं जिनमें से 42 प्लांट चलाने के लिए अनुमति मांगी हुई है, 27 स्क्रीनिंग प्लांट को सील किया गया है जबकि 9 डिस्मैंटल हैं। उन्होंने कहा कि समय-समय पर स्क्रीनिंग प्लांट का दौरा कर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया जाता है। ओवरलोडिंग के विषय पर उन्होंने आरटीए विभाग के अधिकारियों से जानकारी ली और उनके विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई के बारे में समीक्षा की। सेल टैक्स विभाग द्वारा किए जाने वाले कार्यों के बारे में भी जानकारी हासिल की।
उपायुक्त ने बैठक के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को कहा कि वे बेहतर समन्वय के साथ अवैध खनन पर नकेल कसें, पैट्रोलिंग निरंतरता में करें। उन्होंने कहा कि नदियों से होने वाले अवैध खनन को रोकने के लिए सम्बन्धित विभाग कार्य करें। उन्होंने कहा कि जहां अवैध निर्माण से सम्बन्धित वाहनों पर माईनिंग विभाग कार्य करता है वहीं आरटीए विभाग भी यदि उस वाहन में क्षमता से अधिक सामग्री है और रवाना संबधी पर्ची नहीं है तो ऐसे वाहन पर नियमों के मुताबिक नकेल कसने का काम करें। सेल्स टैक्स विभाग के अधिकारी भी अपने विभागीय नियमों के तहत यदि ऐसे वाहनों पर नकेल कसनी है तो उस कार्य को भी करें। उपायुक्त ने बैठक में सम्बन्धित अधिकारियों से इन विषयों को लेकर कोई समस्या तो नहीं उस बारे भी जानकारी ली। वन विभाग के अधिकारियों को भी उन्होंने इस विषय को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उपायुक्त ने कहा कि अवैध खनन को रोकने के दृष्टिगत विभाग की टीमें बनाई जायेंगी जोकि माईनिंग अधिकारियों से मिलकर संयुक्त रूप से कार्य करें।
बैठक में एसडीएम सचिन गुप्ता, एसडीएम नीरज कुमार, एसडीएम हितेष मीणा, जिला माईनिंग अधिकारी भूपिन्द्र सिंह, डीएसपी नारायणगढ़ अनिल कुमार, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय प्रबंधक नितिन मेहता, एसएचओ नारायणगढ़ राजेश कुमार के साथ-साथ अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।
–अब तक 181 वाहनो पर नकेल कसते हुए सम्बन्धित से वसूली गई 5 करोड़ 19 लाख रुपये से अधिक की जुर्माना राशि।
बॉक्स:-
 जिला खनन अधिकारी भूपिन्द्र सिंह ने उपायुक्त को अवगत करवाते हुए बताया कि एनजीटी के आदेशों की पालना के तहत अवैध खनन/अवैध खनिज परिवहन के तहत कार्रवाई जारी है। सितम्बर 2019 से लेकर अब तक 181 व्हीकलों पर नकेल कसते हुए लगभग 5 करोड़ 19 लाख 62 हजार 675 रूपये की राशि जुर्माने के तौर पर वसूली गई है। उन्होंने बताया कि इस कार्रवाई के तहत 116 व्हीकल इम्पोंड करने का काम किया गया है जोकि विभिन्न थानों में बंद है। उन्होंने यह भी बताया कि वर्ष 2021-22 में पिछले चार माह में 32 व्हीकलों का जब्त करने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि निर्धारित मापदंडों के तहत जहां अवैध खनन/अवैध खनिज परिवहन के तहत कार्रवाई की जा रही है वहीं जुर्माना न भरने की सूरत में सम्बन्धित के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की जाती है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed