• Sat. May 28th, 2022

अम्बाला शहर के विकास विहार स्थित सामुदायिक केन्द्र में स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान पर आधारित लगाई गई प्रदर्शनी को देखने के लिए लोगों में भारी उत्साह

Byadmin

Sep 14, 2021

अम्बाला, 14 सितम्बर:– अम्बाला शहर के विकास विहार स्थित सामुदायिक केन्द्र में स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान पर आधारित लगाई गई प्रदर्शनी को देखने के लिए लोगों में भारी उत्साह है। लोग अपने बच्चों के साथ इस प्रदर्शनी को देखने आ रहे हैं और इस प्रदर्शनी में स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के वीर जाबांजों द्वारा किए गये संघर्षों को प्रदर्शित किया गया है। वह स्वयं इस प्रदर्शनी से प्रेरित हो रहे हैं तथा अन्य लोगों को भी इस प्रदर्शनी को देखने के लिए जागरूक कर रहे हैं।
प्रदर्शनी देखने आए अम्बाला छावनी निवासी मोहन लाल बग्गन से जब बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि यहां आकर उन्हें काफी खुशी हो रही है। आजादी की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में अमृत महोत्सव के तहत लोगों को स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के वीर जाबांजों द्वारा किए गये कार्यों एवं योगदान पर आधारित इस प्रदर्शनी को लगाकर लोगों को जानकारी दी जा रही है जोकि काफी सराहनीय है। उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शनी से काफी महत्वपूर्ण जानकारी मिल रही है और यह प्रदर्शनी हरियाणा के प्रत्येक जिले में लगेगी जोकि काफी सराहनीय है। उन्होंने यह भी कहा कि इस प्रदर्शनी में स्वतंत्रता संग्राम से जुड़ी हर चीज को बारीकी से दिखाया गया है जिसको देखने वाला बड़ी गहराई से उसे यहां आकर देख रहा है।
उन्होंने यह भी बताया कि इस प्रदर्शनी में हरियाणा 1966 से पहले कैसा था, खाद्यान, खेल स्टेडियम व कच्ची सडक़ों के साथ-साथ पुराने रजवाहों, प्रति व्यक्ति वार्षिक आय के साथ-साथ सभी चीजें प्रदर्शित की गई हैं। आज हरियाणा बदलते परिवेश में किस प्रकार आगे आया है उसका चित्रण दिखाया गया है। उन्होने कहा कि इस प्रदर्शनी से निसंदेह युवा पीढ़ी को काफी जानकारी मिलेगी।
इस मौके पर प्रदर्शनी देखने आये दयालबाग अम्बाला छावनी के हरविन्द्र सिंह ने भी प्रदेश सरकार द्वारा प्रदर्शनी के माध्यम से जो यह जानकारी दी जा रही है वह काफी सराहनीय है। उन्होंने कहा कि उनके दादा भाग सिंह ने विषम परिस्थितियों का सामना करते हुए काफी संघर्ष किया था और उन्हें इस कार्य के लिए ताम्र पत्र भी मिला है। उन्होंने कहा कि हमें अपने वीर जांबाजों के किए गये कार्यों एवं उनकी गाथाओं के बारे अपने बच्चों को जरूर बताना चाहिए ताकि वे भी इस विषय बारे प्रेरित हो सकें।
दुर्गानगर निवासी मास्टर सुनील कुमार, उनकी धर्मपत्नी सुनीता रानी, बेटा शौर्य व बेटी रिया से जब बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि आज उन्हें आकर काफी अच्छा लग रहा है। यहां पर स्वतंत्रता संग्राम से जुड़ी हर चीज को बेहतर ढंग से प्रदर्शनी के माध्यम से प्रदर्शित किया गया है। सरकार द्वारा जो यह कार्य किया गया है वह काफी सराहनीय है। उन्होंने कहा कि जहां हमें इस प्रदर्शनी से महत्वपूर्ण जानकारी मिली है वहीं बेटा शौर्य व रिया भी इस प्रदर्शनी से काफी प्रभावित हैं। सैक्टर 9 निवासी कमलकांत व अन्य लोगों से जब बातचीत की गई तो उन्होंने भी इस प्रदर्शनी की जमकर सराहना की। यहां बता दे कि बीते कल उपायुक्त विक्रम सिंह ने इस प्रदर्शनी का शुभारम्भ किया था।
डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह ने बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की पहल पर और मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डा0 अमित अग्रवाल के कुशल मार्गदर्शन में सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग द्वारा प्रदेश के प्रत्येक जिला में भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान पर आधारित एक प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में विकास विहार स्थित सामुदायिक केन्द्र में इस प्रदर्शनी को लगाकर लोगों को जानकारी दी जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि यह प्रदर्शनी जिला अम्बाला में 13 सितम्बर से 15 सितम्बर तक आयोजित की जा रही है। कोई भी व्यक्ति इस प्रदर्शनी को देखने आ सकता है। उन्होंने जिलावासियों से अपील की कि वे इस प्रदर्शनी को देखें और दूसरों को भी इस बारे जागरूक करें। उन्होंने यह भी बताया कि इस प्रदर्शनी में स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े हरियाणा के नायकों से सम्बन्धित लेखों एवं फोटोज के साथ-साथ वर्ष 1966 में हरियाणा के गठन के बाद से अब तक हरियाणा में हुए विकास की तुलनात्मक जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.